.

.

uttarakhandnews1.blogspot.in

वतन के लिए प्राण निछावर करने वाले शहीद हरेन्द्र को नमन

उत्तरी कश्मीर में एलओसी से सटे गुरेज सेक्टर में गत शनिवार को आतंकियों से मुठभेड़ के दौरान शहीद हुए एकेश्वर प्रखंड के अंतर्गत ग्राम बड़ेथ निवासी लांसनायक हरेंद्र सिंह की पार्थिव देह मंगलवार को पंचतत्व में विलीन हो गई। भारी तादाद में ग्रामीणों ने शहीद को अंतिम अश्रुपूर्ण विदाई दी।
ग्राम बड़ेथ निवासी हरेंद्र सिंह पुत्र मुकंद सिंह नेगी 36-आरआर में कार्यरत थे व इन दिनों उनकी तैनाती उत्तरी कश्मीर के गुरेज सेक्टर में थी। शनिवार को गुरेज सेक्टर में आतंकियों से मुठभेड़ के दौरान हरेंद्र सिंह गंभीर रूप से घायल हो गए। उन्हें सैन्य चिकित्सालय में ले जाया गया, वहां उपचार के दौरान उन्होंने दम तोड़ दिया। मंगलवार सुबह विशेष सैन्य वाहन से हरेंद्र सिंह की पार्थिव देह उनके बड़ेथ स्थित पैतृक आवास में पहुंची। शहीद के अंतिम दर्शनों को आसपास के ग्रामीण भी उनके आवास में पहुंचे व उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित किए। दोपहर में ज्वाल्पा देवी मंदिर के निकट पैतृक घाट पर पूर्ण सैन्य सम्मान के साथ शहीद को अंतिम विदाई दी गई। इससे पूर्व, जिलाधिकारी चंद्रशेखर भट्ट, जीआरसीसी मुख्यालय लैंसडौन से आए सूबेदार जयद्रथ सिंह सहित अन्य ने शहीद को पुष्पचक्र अर्पित कर श्रद्धांजलि अर्पित की। इस अवसर पर एडीएम पीएस चलाल, एसडीएम पीएल शाह, तहसीलदार छवाण सिंह, एआर पंत, लक्ष्मण सिंह, नीरज पांथरी आदि मौजूद रहे।
क्षेत्र में छाई शोक लहर
26 वर्षीय हरेंद्र सिंह के शहीद की खबर फैलने से एकेश्वर प्रखंड में शोक लहर छा गई। शहीद के परिजन बेहद सदमे में हैं। वहीं, शहीद की माता बिशंबरी देवी का रो-रोकर बुरा हाल है।


See More

 
Top