.

.

uttarakhandnews1.com


‪#‎IncredibleIndia‬ यानि अतुल्य भारत में एक ओर जहाँ गाय को राष्ट्रीय माँ का दर्जा देने के लिए जन-आन्दोलन किये जा रहे हैं वहीँ दूसरी तरफ आये दिन उसी गाय माँ के बेटों यानि कि बछड़ों को सड़कों पर दर-दर ठोकरें खाने के लिए या कसाईयों के हत्थे चढ़ने के लिए गाय पालने वाले या डेरी व्यवसाइयों द्वारा लावारिस छोड़ दिया जाता है... माँ-माँ की पुकार लगाता दो दिन से ये गाय का बछड़ा हमारे क्षेत्र में लावारिस घूम रहा है, पिछली बार दो माह पहले भी इसी प्रकार एक बैल हमारे क्षेत्र में लावारिस घूम रहा था जब उसे जनपद हरिद्वार की न. लगी बाइक में आये कसाई ले जाने लगे तो मोहल्ले की कुछ महिलाओं ने विरोध दर्ज किया और मुझे अवगत करवाया मैंने समाचार पत्र, एनिमल एक्टिविस्ट, जिला पशु अधिकारी, 100 न पर पुलिस आदि सबको अवगत करवाया मगर उसे कहीं सुरक्षित जगह ले जाने के लिए किसी की तरफ से कोई कार्यवाही नहीं हुई, 10-15 दिन तक वह बैल क्षेत्र में घूमता रहा, अब न जाने कहाँ गया दुनियां में है या कसाई ठिकाने लगा गए कुछ पता नहीं...? अब इस बछड़े की क्या गत होगी आने वाला वक्त ही जाने..?. माननीय प्रधानमंत्री Narendra Modi जी कृपया गाय के बछड़ों का इस प्रकार से त्रिस्कार करने वालों का ‪#‎ManKiBat‬ के माध्यम से मार्गदर्शन करें और ऐसा अपराध करने वालों के लिए सख्त कानून बनाने की कृपा करें


See More

 
Top