.

.

uttarakhandnews1.com



नैनीताल: 21 जुलाई, 2015

हाइट कम होने की वजह से रोजमर्रा की जिंदगी में कितनी परेशानी होती है, यह वही समझ सकता है जो इस समस्या से गुजर रहा हो। उत्तराखंड सरकार ने ऐसे लोगों की परेशानी कम करने के लिए एक प्रस्ताव रखा है। प्रस्ताव के मुताबिक जिन व्यस्क लोगों की हाइट चार फीट से कम है, उन्हें राज्य सरकार की तरफ से आर्थिक मदद दी जाएगी।

समाज कल्याण विभाग द्वारा इस संबंध में एक पत्र सभी जिलों में भेज दिया गया है। इसमें राज्य के सभी 13 जिलों में चार फीट से कम हाइट वाले व्यस्क लोगों की गिनती करने के लिए कहा गया है। 22 जून को भेजे गए इस पत्र में कहा गया है कि 21 साल या इससे ज्यादा उम्र के चार फीट से कम हाइट वाले लोगों को लाभार्थी की श्रेणी में रखा जाएगा।

समाज कल्याण विभाग के डायरेक्टर विष्णु सिंह धानिक ने कहा, 'जिन लोगों को लाभार्थी की श्रेणी में रखा जाएगा, उन्हें हर महीने 800 रुपए दिए जाएंगे। इस बारे में सभी 13 जिलों में सर्वे किया जा रहा है।' चंपावत जिले से इस योजना के लिए पांच लोगों का नाम भेजा गया।

अधिकारियों ने बताया कि इस बारे में तीन जून को विभागीय स्तर पर एक मीटिंग करके प्रस्ताव सीएम को भेजा गया था। सीएम हरीश रावत ने इसके लिए मंजूरी दे दी थी। एक अनुमान के मुताबिक किसी व्यक्ति के सामान्य हाइट हासिल न कर पाने के पीछे लगभग 200 तरह के कारण हो सकते हैं, जिनमें हॉर्मोनल इंबैलेंस भी शामिल है। इनका कोई निश्चित इलाज नहीं होता।

धानिक ने कहा, 'रोजमर्रा की जिंदगी के अलावा सामाजिक स्तर पर भी ऐसे लोगों को काफी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। लोग इनके साथ भेदभाव भी करते हैं। मुझे उम्मीद है कि इस योजना से लोगों को फायदा होगा।'
Courtesy: नवभारत टाइम्स




See More

 
Top