.

.

uttarakhandnews1.com



देहरादून :17 July, 2015

उत्तराखंड की खूबसूरत वादियां नए शादीशुदा जोड़ों के हनीमून को लिए सबसे अच्छी जगह मानी जाती हैं, पर 'सोशल इकनॉमिक ऐंड कास्ट सेंसस' 2011 की एक रिपोर्ट के अनुसार यहां ग्रामीण इलाकों में रहने वाले लोगों के लिए शादी करना कोई जरूरी विकल्प नहीं है।

इसी सप्ताह जारी हुई इस रिपोर्ट के अनुसार कुमाऊं और गढ़वाल दोनों मंडलों में उन ग्रामीणों की संख्या जिन्होंने कभी शादी नहीं की, 30.77 लाख है। जो कि कुल ग्रामीण जनसंख्या का 42.58% हिस्सा है। जबकि पूरे देश में कभी शादी नहीं करने वालों की संख्या का पर्सेंट 41.64% है। पहाड़ी क्षेत्रों का मैरेटल स्टेटस हिमाचल प्रदेश से भी कम है। हिमाचल प्रदेश में यह संख्या 23.63लाख है। जो कि कुल जनसंख्या का 39.84% है।
Courtesy: नवभारत टाइम्स


See More

 
Top