.

.







#uttarakhandnews
देहरादून: 17 अगस्त, 2015

अगले तीन वर्षों में एक लाख युवाओं को पर्यटन रोजगार से जोड़ा जाएगा। इसी वित्तीय वर्ष में विभिन्न विभागों में 30 हजार से अधिक पदों पर नियुक्तियां की जाएंगी।

महिला राज्य आंदोलनकारियों को आरक्षण के लिए कानून बनाया जाएगा। किसान बही में पुरुषों के साथ महिला किसान का भी नाम दर्ज किया जाएगा। मुख्यमंत्री हरीश रावत ने स्वतंत्रता दिवस पर महिलाओं और बेरोजगारों के लिए ये घोषणाएं कीं। मुख्यमंत्री का अधिकांश भाषण महिलाओं पर ही केंद्रित रहा।

मुख्यमंत्री ने परेड ग्राउंड में आयोजित स्वतंत्रता दिवस समारोह में कहा कि युवाओं को पर्यटन रोजगार से जोड़ने के लिए ठोस कार्यनीति के साथ काम किया जा रहा है।

कहा कि मार्च 2016 तक 1800 महिला कांस्टेबलों और 300 महिला इंस्पेक्टरों की भर्ती की जाएगी। होमगार्ड और पीआरडी में महिलाओं की संख्या तीन वर्षों में 30 प्रतिशत बढ़ाई जाएग। इस वर्ष कन्या धन योजना में लाभार्थियों की संख्या दोगुनी की जाएगी।

महिला राज्य आंदोलनकारियों के लिए पेंशन की पात्रता की उम्र घटाकर 50 वर्ष की जाएगी। स्वतंत्रता संग्राम सेनानी के आश्रितों के परिवार की कन्या एवं वर्ष 2013 में आई आपदा के पीड़ित हर परिवार की कन्या के विवाह के लिए मुख्यमंत्री विवेकाधीन कोष से 50 हजार रुपए की सहायता दी जाएगी।

जनता को सस्ते खाद्यान्न के लिए इसी राज्य स्थापना दिवस 9 नवंबर से केंद्र पोषित सस्ते खाद्यान्न की योजना लागू की जाएगी।
Courtesy: अमर उजाला


See More

 
Top