.

.






#uttarakhandnews
हल्द्वानी, नैनीताल : 18 अगस्त, 2015

मुंबई हाईकोर्ट ने जहां मैगी पर लगी रोक के आदेश को पिछले दिनों रद्द कर दिया वहीं उत्तराखंड में मैगी फिर फेल हो गई है।

खाद्य विभाग ने पिछले महीने हल्द्वानी के अलग-अलग मॉल और दुकानों से खाद्य पदार्थों के नौ सैंपल लिए थे। इनमें से मैगी, दूध, पनीर और नमकीन के छह सैंपल फेल हो गए।

मैगी में आर्टिफिशियल फ्लेवर और कलर पाए गए। सैंपल फेल होने पर खाद्य विभाग ने उत्पाद बनाने वाली कंपनियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की अनुमति मांगी है।

खाद्य निरीक्षक कैलाश चंद्र के मुताबिक हल्द्वानी से लिए गए सभी नौ सैंपल जांच के लिए राजकीय खाद्य एवं औषधीय परीक्षण प्रयोगशाला रुद्रपुर भेजे गए थे।

लैब की रिपोर्ट चौंकाने वाली है नौ में छह सैंपल फेल हो गए हैं। कैलाश चंद्र के मुताबिक कालाढूंगी रोड मुखानी स्थित ईजी डे से नेस्ले की मैगी का सैंपल लिया था।
Courtesy: अमर उजाला



See More

 
Top