.

.








#uttarakhandnews
देहरादून 19 अगस्त 2015
आशा मनोरमा डोबरियाल शर्मा के नेतृत्व वे जलूस की शकल में सैकड़ो लोगो ने देहरादून स्थित विदेश मंत्रालय के रिजलनल पासपोर्ट कार्यालय में यूगांड़ा में फसे उत्तराखण्ड़ के लोगो के सकुशल वापसी के लिए धरना व प्रर्दशन किया और यह नारे लगाए कि जो मानवता और ममता विदेश मंत्री सुषमा स्वराज जी ने ललित मोदी के लिए दिखाई है उसकी कमी उत्तराखण्ड़ के युवको को यूगाड़ा से वापसी में क्यो दिखाई दे रही है। उन्होने रिजनल पासपोर्ट अधिकारी को विदेश मंत्री को सुषमा स्वराज को सम्बोधित ज्ञापन की प्रतिलिपि सौपीं, ज्ञापन में विदेश मंत्री से आग्रह किया गया जैसा कि आपको विदित होगा कि इससें पूर्व मलेशिया में उत्तराखण्ड़ के नौ युवक कबूतरबाज विदेशी ऐजेण्ट़ के चुंगल में धोखें से फंस गए थे जिनकी सुरक्षित वापसी उत्तराखण्ड़ सरकार के द्वारा हवाई टिकट उपलब्ध कराने के बाद ही सम्भव हो पाई थी, आपको अवगत कराना है कि पुनः उत्तराखण्ड़ के नौ युवक/नागरिक यूगांड़ा में कबूतरबाज ऐजेण्ट के चक्कर में फंसकर यूगांड़ा से उनकी सुरक्षित वापसी नहीं हो पा रही है। उत्तराखण्ड़ सरकार के दिल्ली स्थित स्थानीय आयुक्त एस.ड़ी.शर्मा ने यूगांड़ा स्थित भारत के उच्चायुक्त से सम्पर्क साधा है व उनसे युवाओं की सुरक्षित वापसी के सहयोग की अपेक्षा की है, बताया गया है कि उनके पास आवश्यक दस्तावेज व प्रयाप्त धन का अभाव भी है।
उन्होने विदेश मंत्री से अनुराध किया कि उपरोक्त सभी युवकों को मानवता के आधार पर अपनी ममता प्रदान करने की कृपा करें, क्योकि आप एक माॅ भी है, एक बेटी भी है और एक बहन भी है उक्त आधार पर सभी युवको की सुरक्षित वापसी के लिए आप हस्तक्षेप कर यूगांड़ा सरकार से इस सम्बन्ध में वार्ता करने की कृपा करें। ज्ञात रहे कि आशा मनोरमा डोबरियाल शर्मा दिवंगत सांसद मनोरमा डोबरियाल शर्मा की पुत्रवधु है उनसे यूगांड़ में फसे कई पीडि़त परिवारों के सदस्यों ने सम्पर्क किया था।
उन्होने विदेश मंत्रालय व उत्तराखण्ड़ सरकार के स्थानीय आयुक्त के बीच में हुए प्रतिलिपि व युवको की सूची भी प्रैस को जारी की है जिसमें विदेश मंत्रालय ने युवको की वापसी में धन का प्रबन्धन न होना भी एक कारण बताया है। इस अवसर पर मुकेश कुमार, मोहम्मद अली, पपेन्द्र पुण्डीर, कमाल खान, गोरी शंकर, शकील खान, देवेन्द्र यादव, राम बाबू, राम बहादुर शाही, उपेन्द्र, भगवान दास, ऊषा राणा, रमेश, प्रिया, नीलम नंदा उपस्थित रहें।

VICTIMS OF HUMAN TRAFFICLING Stranded in Kampala (Uganda)- 9 persons OF Uttarakhand as informed by MEA States Division:-
S.N.
Name
Passport No.
State
Port of Dis-embarkation
Contact
(India)
YF Card
REMARKS Action taken by Res. Commissionr, Uttarakhand
1.
Anirudh Negi
H-5999252
Uttarakhand
Mumbai
9411124975
Lost
Tried on this no. but no response
2.
Sharwan Singh
G-5090704
Uttarakhand
Delhi
7351334455
DCIC
Spoken to his younger brother. Dalbir Rawat. He was not aware. Asked him to contact his brother and let me know, to help him
3.
Sanjay Singh
H-2400960
Uttarakhand
Delhi
8006976465
DCIC
Tried on this no. but no response
4.
Kishor Bhat
H-6292744
Uttarakhand
Delhi
8860138306
OK
Tried on this no. but it was switched off.
5.
Arvind Singh Parihar
L-7538837
Uttarakhand
Delhi
8650477904
Lost
Tried on this no. but it was switched off.
6.
Punit Kumar Diwakar
M-2986372
Uttarakhand
Mumbai
7417471454
Lost
Tried on this no. but it was switched off.
7.
Rajesh Aggarwal
H-6032690
Uttarakhand
Mumbai
8909924491
Lost
Tried on this no. but it was switched off.
8.
Nilesh Negi
K-8061595
Uttarakhand
They have bought tickets for 16/08/15
9411775366
OK
Spoken to Ms Bimla relation of 2 passngrs and she said they are receiving both their passengers tonight. No help sought in Mumbai.
9.
Abhishek Singh
L-3234294
Uttarakhand
They have bought tickets for 16/08/15
9997214947


See More

 
Top