.

.





#uttarakhandnews


देहरादून  : 10 अगस्त, 2015

हाल में सामने आए स्टिंग प्रकरण के मद्देनजर उत्तराखंड के मुख्यमंत्री हरीश रावत को पद से हटाने की मांग को लेकर बीजेपी के राज्यपाल डॉ. कृष्णकांत पाल से मुलाकात करने पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री के मीडिया प्रभारी सुरेंद्र कुमार ने कहा कि बीजेपी नेता सत्ता के नशे में चूर हो गए हैं और उन्हें राज्यपाल के पास जाने की बजाय संसद में राज्यहित के मुद्दे उठाने में विफल रहने वाले अपने पांचों सांसदों से इस्तीफे लेने चाहिये।

एक बयान में कुमार ने कहा, 'लगता है कि केंद्र में सरकार होने के नशे में चूर बीजेपी नेताओं में अहंकार की भावना उत्पन्न हो गई है। बीजेपी नेताओं को राजभवन या मुख्यमंत्री आवास जाने की बजाय दिल्ली में प्रधानमंत्री आवास और संसद में अपनी बात रखनी चाहिए।'

इस संबंध में मीडिया प्रभारी कुमार ने बीजेपी से अपने पांचों सांसदों से इस्तीफा लेने की भी मांग की और आरोप लगाया कि वे संसद में राज्यहित के मुद्दे उठाने में विफल रहे हैं और उनकी चुप्पी राज्य के विकास को प्रभावित कर रही है।

उन्होंने कहा कि बीजेपी नेता केवल जनता को दिखाने के लिए प्रदेश में नौटंकी कर रहे है और यदि राज्य हित की उन्हें इतनी ही चिंता है, तो वे संसद में अपनी चुप्पी को तोड़े, ताकि राज्यहित में केंद्र सरकार कुछ लंबित प्रकरणों पर जल्द निर्णय ले।
Courtesy: नवभारत टाइम्स



See More

 
Top