.

.









देहरादून: 10 सितम्बर , 2015

साल 2013 में आई प्राकृतिक आपदा से ग्रस्त क्षेत्रों में राहत और पुनर्निर्माण के लिये उत्तराखंड के सीएम हरीश रावत द्वारा विशेष पैकेज की मांग का वरिष्ठ भाजपा सांसद भुवन चंद्र खंडूरी ने तीखी आलोचना की है। खंडूरी ने कहा है कि राज्य सरकार पहले यह बताए कि आपदा राहत के नाम पर इससे पहले केंद्र से मिले पैकेज की धनराशि कहां खर्च की गयी।

एक संवाददाता सम्मेलन में खंडूरी ने कहा, 'आपदा राहत और पुनर्निर्माण के लिये नया पैकेज मांगने से पहले राज्य सरकार यह बताए कि इस कार्य के लिये केंद्र द्वारा पहले दिए गए पैकेज का क्या हुआ? उस पैकेज को खर्च करने में तो घोटाला कर दिया गया । यह पता चला है कि स्कूटर जैसे प्राइवेट वाहनों तक में डीजल डाल दिया गया।'

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री हरीश रावत और सत्ताधारी कांग्रेस दोनों ने प्रधानमंत्री मोदी के प्रदेश दौरे से पहले उनसे राज्य के लिये पैकेज घोषित करने की मांग की है। मुंख्यमंत्री रावत ने कहा है कि बिहार में ऐन चुनाव के वक्त पैकेज की घोषणा करने वाले प्रधानमंत्री को उत्तराखंड में समय रहते पैकेज घोषित करना चाहिए, जिससे उसे लागू करने का वक्त मिल जाए।

साल 2017 की शुरुआत में उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव होने हैं। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष किशोर उपाध्याय ने भी कल प्रधानमंत्री को एक पत्र लिखकर उनसे कांग्रेस शिष्टमंडल को ऋषिकेश में मुलाकात का समय देने और पैकेज सहित 11 सूत्री मांगों पर सकारात्मक निर्णय लेने का अनुरोध किया था।

प्रधानमंत्री मोदी शुक्रवार को ऋषिकेश आ रहे हैं जहां वह शीशमझाडी स्थित दयानंद आश्रम के स्वामी दयानंद गिरि से मुलाकात करेंगे । स्वामी दयानंद गिरि से प्रधानमंत्री के पुराने व्यक्तिगत संबंध हैं और वह पिछले कुछ समय से अस्वस्थ चल रहे स्वामी दयानंद का हाल-चाल लेने आ रहे हैं।
Courtesy: नवभारत टाइम्स


See More

 
Top