.

.








देहरादून न्यूज़: 7 सितम्बर , 2015

देहरादून के राजपुर में डिप्लोमा इंजीनियर नीरज की हत्या के आरोपी ने पुलिस के सामने हत्या की पूरी कहानी सुनाई तो सब सन्न रह गए। बताया कि नीरज ने खुद को बचाने के लिए खूब जद्दोजहद की थी।

सोते समय सिर पर तवे और कुकर के ढक्कन के हमले के बाद एक बार तो नीरज राजेश के चुंगल से निकलकर बच गया था। फिर बाथरूम में दबोचकर उसे अधमरा किया। हत्यारोपी की मानें तो नीरज चीखा और चिल्लाया भी था। एक बार तो वह भी घबरा गया, लेकिन उसके लिए राहत भरी बात यह थी कि किसी के कानों तक उसकी चीख नहीं पहुंची।

कमरे और बाथरूम की दीवार पर खून के छींटों से रविवार को ही मृतक और हत्यारोपी के बीच जद्दोजहद होने की आशंका जताई गई थी। पुलिस हिरासत में आए आरोपी राजेश सैनी ने सिलसिलेवार कत्ल की दास्तां सुनाई तो वह सही साबित हुई।

घटना को अंजाम देने के लिए राजेश को कई घंटे इंतजार करना पड़ा। वह नींद आने का ड्रामा करते हुए बिस्तर पर पड़ा रहा। वह जानता था कि सोते समय ही नीरज को काबू में किया जा सकता था।
Courtesy: अमर उजाला


See More

 
Top