.

.











देहरादून : 25 अक्टूबर , 2015

मसूरी की मालरोड पर नंदादेवी राजजात लीला की झांकी के दौरान विदेशी सैलानियों का अलग ही रूप देखने को मिला। जहां एक ओर झांकियों ने देश-विदेश के सैलानियों को अभिभूत किया, वहीं नंदा की विदाई की पूजा-अर्चना पर लोगों की आंखों से आंसू छलके पड़े। दा की विदाई के साथ ही रविवार को चार दिवसीय सातवां मसूरी राइटर्स माउंटेन फेस्टिवल संपन्न हुआ। फेस्टिवल के अंतिम दिन मालरोड पर प्रो. डीआर पुरोहित के निर्देशन में नंदादेवी राजजात की लीला ने देश-विदेश के सैलानियों को अपनी और खींचा। शहर चुने आपके शहर की ख़बरें
तस्वीरों में ‌देखिए, मसूरी में विदेशी सैलानियों की अनोखी भक्ति, नंदादेवी राजजात की झाकियां और शोभायात्रा से पहले नौटी गांव से आई वयोव्द्घ महिलाओं ने मां नंदा का पारंपरिक जागर गाकर देवी का आहवान किया।




एंड्रू ऑल्टर के साथ आए ऑस्ट्रेलिया के कई छात्रों ने ढोल और नगाड़े पर नृत्य किया। मालरोड नंदादेवी के जागर, भंकोरे और ढोल दमाऊ की गर्जना से मसूरी की वादियां गूंज उठी।
अमर उजाला


See More

 
Top