.

.







उत्तरकाशी   : 23 नवंबर  , 2015
आईटीआई धौंतरी के लिए जमीन दान देने वाले परिवार आश्वासन के अनुरूप संस्थान में नौकरियों में वरीयता नहीं दिए जाने से आक्रोशित हैं।

विभाग एवं प्रशासन के अधिकारियों के चक्कर काट कर थक चुके इन ग्रामीणों ने मंगलवार से धौंतरी उपतहसील परिसर में धरना आंदोलन शुरू कर दिया है।

धौंतरी में आईटीआई के लिए भेटियारा गांव के अनुसूचित जाति के चार परिवारों ने अपनी चालीस नाली जमीन दान दी है। इसके एवज में उन्हें आईटीआई में होने वाली नियुक्तियों में वरीयता का आश्वासन दिया था, लेकिन अब हो रही नियुक्तियों में प्राथमिकता नहीं मिलने से परिवारों में रोष है।

विभाग एवं प्रशासन के अधिकारियों के चक्कर काटकर थक चुके ग्रामीणों ने मंगलवार को धौंतरी उपतहसील कार्यालय परिसर में बेमियादी धरना शुरू कर दिया।

दूसरे दिन धरना स्थल पर हुई सभा को संबोधित करते हुए वक्ताओं ने कहा कि आश्वासन के अनुरूप नौकरियों में प्राथमिकता नहीं मिलने तक वे आंदोलन जारी रखेंगे।

धरना देने वालों में शांति दास, राजू दास, रोशन लाल, गंगा देवी, पन्ना देवी आदि शामिल हैं। भेटियारा के नरेशचंद्र नौटियाल, हुल्डियाण के राम सिंह बिष्ट एवं बांध प्रभावित संघर्ष समिति की अध्यक्ष जबरा राणा ने ग्रामीणों की मांग को जायज बताते हुए आंदोलन को समर्थन दिया। अमर उजाला


See More

 
Top