.

.







हल्द्वानी: 30 नवंबर  , 2015

उत्तराखंड के इन जिलों ने पिछले साल की अपेक्षा इस साल एड्स पर काफी हद तक काबू पा लिया है।

हालांकि दो जिले ऐसे हैं जहां एड्स मरीजों की संख्या बढ़ी है। एड्स की रोकथाम के लिए काउंसलिंग से लेकर, प्रचार-प्रसार, जांच और ब्लड सेफ्टी समेत अन्य पर आठ से दस करोड़ रुपए प्रतिवर्ष राज्य में खर्च किया जा रहा है।

वर्ष 2002 में कुमाऊं मंडल के छह जिलों में एड्स के सिर्फ आठ मरीज नैनीताल में थे। मगर आबादी बढ़ने और बाहर से लोगों के आने के साथ ही एड्स का दानव पांव पसारता गया और सभी जिले इसकी चपेट में आ गए।

राहत भरी बात यह है कि पिछले वर्ष की तुलना में नैनीताल, ऊधमसिंह नगर, बागेश्वर, चंपावत जिले ने एड्स पर काबू पाया है।अमर उजाला


See More

 
Top