.

.









उत्तराखंड संस्कृति : 25 दिसंबर  , 2015
चार महिने में इस जर्मन बेटी पर उत्तराखंड की संस्कृति का ऐसा जादू चला की वह यहीं की हो गई। सोशल बलूनी पब्लिक स्कूल (एसबीपीएस) में दूसरे वार्षिकोत्सव की महफिल जर्मन छात्रा कैटी ने गढ़वाली गीत गाकर लूट ली। कैटी के गीत पर बच्चों से लेकर बड़े तक झूमते नजर आए। वार्षिकोत्सव कार्यक्रम पूरी तरह से देश की संस्कृतियों का संगम बन गया।
बुधवार को सोशल बलूनी पब्लिक स्कूल के दूसरे वार्षिकोत्सव का शुभारंभ मेयर विनोद चमोली, लोक गायक नरेंद्र सिंह नेगी, पॉलिगन और सोशल ग्रुप के चेयरमैन केएस पंवार, एमडी डीएस पंवार, बलूनी ग्रुप के एमडी विपिन बलूनी ने दीप जलाकर किया।
कार्यक्रम की आकर्षण 10वीं कक्षा में पढ़ने वाली जर्मन छात्रा कैटी रही। कैटी ने ठेठ पहाड़ी अंदाज में गढ़वाली गीत ‘घुघुती घुरौण लगी म्यारा मैत की’ गीत गाया तो सब हैरान रह गये
वार्षिकोत्सव में आए बच्चों के दादा-दादी ने उड़े जब-जब जुल्फें तेरी... पर ठुमके लगाए तो उनके परिजनों और बच्चों ने खूब तालियां बजाई। वार्षिकोत्सव में अभिभावकों को तोहफे में अरसे दिए गए। स्कूल के एमडी विपिन बलूनी ने बताया कि लोगों को उनके गांव और पहाड़ की संस्कृति से जोड़े रखने के लिए यह शुरुआत की गई है। Daulat Rana



See More

 
Top