.

.




ऊधम सिंह नगर  : 18 जनवरी  , 2016
डर क्या होता है, बाघ क्या मुझे तो किसी चीज से डर नहीं लगता। उत्तराखंड के अर्जुन सिंह अपने इसी साहस के कारण राष्ट्रीय वीरता पुरस्कारों में संजय चोपड़ा अवार्ड से नवाजे जाएंगे।

एंड्रॉएड ऐप पर उत्तराखंड समाचार पढ़ने के लिए क्लिक करें.

अर्जुन सिंह ने अपने अदम्य साहस का परिचय देते हुए बाघ का सामना कर अपनी मां के जीवन की रक्षा की। क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग के दीवाने अर्जुन राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलने की खुशी को छिपा नहीं पा रहे हैं।

उत्तराखंड गढ़वाल के मालगांव बदियार निवासी 16 वर्षीय अर्जुन सिंह ने 16 जुलाई 2014 की घटना को याद करते हुए बताया कि उस दिन वे अपने घर पर संगीत सुन रहे थे। मां पशुओं को चारा खिला रही थी। अमर उजाला


See More

 
Top