.

.




देहरादून : 20 जनवरी  , 2016
एंड्रॉएड ऐप पर उत्तराखंड समाचार पढ़ने के लिए क्लिक करें

मौसम ने करवट बदली और उत्तराखंड में उमड़े बादलों ने चारधाम समेत तमाम चोटियों को बर्फ से लकदक कर दिया। इसके साथ ही सर्द हवा के डेरा डालने से समूचे उत्तराखंड में ठिठुरन बढ़ गई है। केदारनाथ में आज तापमान शून्य से 7.6 डिग्री नीचे चला गया, जबकि मुक्तेश्वर व उत्तरकाशी का आलम भी कुछ ऐसा ही रहा। न सिर्फ पर्वतीय क्षेत्रों, बल्कि मैदानी इलाकों में भी गलन वाली ठंड महसूस होने लगी है। उधर, मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि गुरुवार को सूबे में मौसम शुष्क रहेगा। अलबत्ता, पर्वतीय इलाकों में कुछ स्थानों पर पाला पड़ सकता है, जबकि हरिद्वार और ऊधमसिंहनगर जनपदों में कहीं-कहीं कोहरा पसरने की संभावना है।



पश्चिमी विक्षोभ के चलते उत्तराखंड में उमड़े बादलों ने गढ़वाल मंडल में मंगलवार रात और कुमाऊं में बुधवार को चोटियों को बर्फ की सफेद चादर ओढ़ा दी। चारधाम बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री व यमुनोत्री के साथ ही रॉड़ी टॉप, सुक्की टॉप में जमकर बर्फबारी हुई। धनोल्टी में भी बर्फ की हल्की फुहारें पड़ीं। वहीं, पिथौरागढ़ जिले में मुनस्यारी, थल, चंडोक, चराकोट, धंधूरा, देवचूरा समेत अन्य चोटियों पर सीजन का पहला हिमपात हुआ। इसके अलावा अल्मोड़ा और चंपावत जनपदों में भी चोटियों हिमपात हुआ।



चोटियों पर हिमपात के बाद पूरे सूबे में शीतलहर ने डेरा डाल लिया है। नतीजतन ठिठुरन खासी बढ़ गई है। मैदानी इलाकों की बात करें तो बुधवार को दिनभर ही बादलों की मौजूदगी बनी रही, लेकिन बदरा शांत रहे। अलबत्ता, सुबह के वक्त हरिद्वार, रुड़की, ऊधमसिंहनगर में कहीं उथला तो कहीं घना कोहरा रहा। हालांकि, बाद में धूप निखरने पर यह छंट भी गया। अलबत्ता, शीतलहर ने धूप की गर्माहट का ज्यादा अहसास नहीं होने दिया। जागरण




See More

 
Top