.

.








उत्तरकाशी : 10 जनवरी  , 2016
तीन-तीन भूकंप के झटकों को सहन कर चुके उत्तरकाशी के रैथल गांव में स्थित 500 साल पुराने पंचपुरा भवन को अब टूरिस्ट सेंटर के रूप में विकसित किया जाएगा। खास बात यह है कि यह सरकारी स्तर पर नहीं बल्कि नेहरू पर्वतारोहण संस्थान (निम) और स्वयंसेवकों की संस्था ग्रीन पीपुल से जुडे़ लोग इस काम को अपने स्तर से अंजाम देंगे। निम से जुड़ीं ममता रावत के अनुसार स्थानीय महिलाएं को भी इसमें जोड़ा जाएगा। पंचपुरा भवन को राज्य आपदा प्रबंधन एवं न्यूनीकरण केंद्र ने भी स्थानीय कला का बेहतरीन नमूना माना है। निम के सूत्रों के मुताबिक पंचपुरा भवन को रिस्टोर करने में दिल्ली की आर्किटेक्ट अल्का सूद का सहयोग लिया जा रहा है।

बताया जा रहा है कि अल्का इस काम में निशुल्क योगदान देंगी। भूगर्भ विज्ञानी नवीन जुयाल ने इस भवन की कार्बन डेटिंग की थी। जुयाल ने पाया कि यह भवन 500 साल से भी पुराना है। पांच मंजिला यह भवन उत्तरकाशी क्षेत्र में अब तक आए तीन बड़े भूकंपों को झेल चुका है।

केदारनाथ पुनर्निर्माण में जुटे कर्नल अजय कोठियाल की टीम अब पंचपुरा के बहाने रैथल गांव की तस्वीर को बदलने की कोशिश में है। टीम से जुड़े प्रभात कुमार सिंह के मुताबिक रैथल गांव में जैविक खेती और स्थानीय स्तर पर फार्मिंग की तैयारी है।

जैविक उत्पादों को ग्रीन पीपुल शहरों तक पहुंचाएगी जिससे उत्पादों की अधिक कीमत मिल सके। पंचपुरा भवन को रिस्टोर करके इसको टूरिस्ट सेंटर के रूप में भी विकसित किया जाएगा। इस काम को जिम्मा उठा रही ममता रावत के मुताबिक जैविक खेती से लेकर अन्य किसी भी काम में स्थानीय महिलाओं का ही सहयोग लिया जा रहा है। कोशिश यह है कि हर काम में महिलाएं ही आगे आएं। फिलहाल करीब 25 महिलाओं को प्रशिक्षण के लिए चुना गया है। इन महिलाओं को फार्मिंग से लेकर फ्रंट ऑफिस संभालने, निर्माण कार्य तक का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। रैथल उत्तरकाशी में दयारा बुग्याल ट्रैक रूट पर स्थित है। पर्यटन के लिहाज से यह क्षेत्र बेहतरीन माना जाता है। ग्रीन पीपुल की योजना रैथल के चार-पांच गांवों को जैविक खेती से जोड़ने की है। मार्केटिंग की व्यवस्था ग्रीन पीपुल करेगा।

पंचपुरा भवन को पर्यटकों के लिए खोला जाएगा। नेहरू पर्वतारोहण संस्थान से जुड़ी और भंकोली गांव की ममता रावत को यह जिम्मा सौंपा गया है। पंचपुरा भवन के स्वामियों से 30 साल का करार किया गया है। अमर उजाला


See More

 
Top