.

.




चंपावत : 03 फरवरी , 2016

सौतेली मां ने ऐसा जुल्म ढाया कि दोनों घर छोड़ने के लिए मजबूर हो गए। किशारी अपनी ताई के घर रही रही है, जबकि किशोर गांव से ही चला गया है। किशोरी ने सौतेली मां के खिलाफ मुकदमा दर्ज करा लिया है। 

डसिया निवासी किशोरी भगवती (16) पुत्री स्व. पूरन सिंह बताया कि उसकी सौतेली मां त्रिलोकी देवी उसे और उसके भाई भाई संजय (14) को पिता की मौत के बाद से प्रताडि़त कर रही है। आरोप लगाया कि 31 जनवरी त्रिलोकी देवी ने जलती हुई लकड़ी से भगवती के चेहरे को जलाने की कोशिश की। गनीमत थी कि मौके पर पहुंची किशोरी की ताई ने उसे बचा लिया। आरोप है कि महिला ने उसे जान से मारने की धमकी भी दी। आरोप लगाया कि भगवती के छोटे भाई संजय को भी सौतेली मां अक्सर बेवजह ही पीट देती है। इसका विरोध करने पर गांव वालों को भी महिला ने झूठे मुकदमे में फंसाने की धमकी देती है।

बताया कि मां की प्रताड़ना से तंग आकर ही संजय गांव छोड़कर चला गया और वहीं भगवती ताई लक्ष्मी के साथ रह रही है। थानाध्यक्ष प्रभात कुमार ने बताया कि आरोपी महिला के विरुद्ध विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है। बताया कि मामले की जांच की जा रही है।  जागरण


See More

 
Top