.

.




देहरादून: 22 फरवरी , 2016
शिक्षा विभाग ने प्रदेश के 20 हजार से अधिक शिक्षकों के वेतन से इनकम टैक्स तो काट लिया, लेकिन उसे संबंधित विभाग में जमा कराना भूल गया। विभाग की इस लापरवाही की वजह से शिक्षकों के घर इनकम टैक्स जमा नहीं होने के नोटिस पहुंच रहे हैं। इस वजह से शिक्षक परेशान हैं।

राजधानी सहित प्रदेश के विभिन्न जिलों के शिक्षकों के घर इन दिनों आयकर विभाग बंगलूरू से इनकम टैक्स जमा नहीं होने के नोटिस पहुंच रहे हैं। प्राथमिक विद्यालय माला जनपद पौड़ी गढ़वाल की शिक्षिका सुमन के मुताबिक वर्ष 2012-13 और 2014-15 में वेतन से इनकम टैक्स कटने के बावजूद आयकर विभाग की ओर से नोटिस दिया गया है।

विभाग ने मानी लापरवाही
दून निवासी शिक्षक सतीश घिल्डियाल बताते हैं कि विभाग ने वर्ष 2015 में उनके वेतन से 17 हजार रुपये इनकम टैक्स के रूप में काट लिए, लेकिन आयकर विभाग की ओर से टैक्स जमा करने का नोटिस मिला है। इस संबंध में खंड शिक्षा अधिकारी गोपाल चौबे ने बताया कि विभाग की ओर से सीए की व्यवस्था नहीं होने से यह समस्या बनी है। अमर उजाला



See More

 
Top