.

.





ऋषिकेश : 11 फरवरी , 2016


तीर्थनगरी ऋषिकेश में मार्च महीने के शुरुआती सात दिन इंटरनेशनल योग फेस्टिवल के नाम रहेंगे। फेस्टिवल में अमेरिका, रूस सहित 30 देशों के साढ़े तीन सौ विदेशी साधक हिस्सा लेंगे। एक मार्च से शुरू होने वाले फेस्टिवल में उत्तराखंड संस्कृति विभाग के कलाकार और परमार्थ निकेतन के ऋषिकुमार सांस्कृतिक प्रस्तुति देंगे। महोत्सव में प्रसिद्ध योग गुरु योग की विधाएं सिखाएंगे।

ऋषिकेश में परमार्थ निकेतन और उत्तराखंड पर्यटन विभाग इस वर्ष संयुक्तरूप से इंटरनेशनल योग फेस्टिवल का आयोजन करने जा रहा है। सीएम हरीश रावत एक मार्च को महोत्सव का उद्घाटन करेंगे। जबकि राज्यपाल डॉ. केके पाल सात मार्च को समापन समारोह में शिरकत करेंगे।

परमार्थ निकेतन में योग फेस्टिवल की प्रभारी साध्वी भगवती सरस्वती ने बताया कि इसमें देश-विदेश के प्रसिद्ध योग शिक्षक प्रतिभागियों को योग की विभिन्न विधाओं की जानकारी देंगे। इसमें महामंडलेश्वर स्वामी असंगानंद सरस्वती, स्वामी चिदानंद सरस्वती, बाबा रामदेव, शंकराचार्य दिव्यानंद तीर्थ महाराज, स्वामी चिन्मयानंद सरस्वती, आचार्य बालकृष्ण सहित अन्य संत हिस्सा लेंगे। केंद्रीय मंत्रियों के अलावा फिल्मी हस्तियों को भी योग महोत्सव में आने के लिए निमंत्रण भेजा जा रहा है। योग महोत्सव में साधकों के लिए फीस जल्द निर्धारित की जाएगी। साधक के रहने, खाने के साथ योगाचार्यों का खर्च भी फीस के रूप में लिया जाता है।

इन देशों से पहुचेंगे साधक
अमेरिका, कनाडा, ब्राजील, रूस, चीन, ऑस्ट्रेलिया, चिली, साउथ अफ्रीका, अर्जेन्टिना, बेल्जीयम, बुलगारिया, डेनमार्क, पोलेंड, सिंगापुर, स्पेन, स्विटजरलैंड, थाइलैंड, मलेशिया, साउथ कोरिया, इटली, फ्रांस, जर्मनी, नेपाल, मारीशस, मैक्सिको, आइसल्बैंड, ईरान आदि देशों के साधक हिस्सा लेंगे। लगभग एक हजार देशी-विदेशी साधक योग महोत्सव में हिस्सा लेंगे।

योग महोत्सव का शेड्यूल
अंतर्राष्ट्रीय योग महोत्सव में प्रतिदिन सुबह छह से आठ बजे तक योग सिखाया जाएगा। दोपहर 12 बजे से योग पर व्याख्यान सत्र चलेगा। शाम छह बजे रोजाना भव्य गंगा आरती आयोजित होगी। जबकि शाम सात बजे से सांस्कृतिक कार्यक्रमों का सिलसिला चलेगा। इसमें देशी-विदेशी कलाकारों को अपनी कला के प्रदर्शन का मौका मिलेगा। हिन्दुस्तान


See More

 
Top