.

.






देहरादून :  26 मार्च , 2016

देर रात स्पीकर ने नौ बागी विधायकों की सदस्यता रद्द।
नौ विधायक विधानसभा में वोट नहीं दे सकेंगे।
राष्ट्रपति शासन की आशंका को देखते हुए आनन-फानन में फैसला।

उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष गोविंद सिंह कुंजवाल ने देर रात कांग्रेस के नौ बागी विधायकों की सदस्यता निरस्त कर दी है। हालांकि इस बात की आधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई है। इसके लिए विधानसभा अध्यक्ष गोविंद सिंह कुंजवाल देर रात विधानसभा पहुंचे। माना जा रहा है कि दिल्ली में प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में कैबिनेट बैठक के बाद राष्ट्रपति शासन की आशंका को देखते हुए आनन-फानन में यह फैसला किया गया।

पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा, हरक सिंह रावत सहित नौ बागी विधायकों को इससे पहले 19 मार्च को दल बदल कानून के तहत कारण बताओ नोटिस जारी किया गया था। जवाब देने के लिए सात दिन का समय देते हुए 26 मार्च को शाम पांच बजे तक का समय निर्धारित किया गया था।

शनिवार को देर शाम तक कांग्रेस के बागी विधायकों ने अपने प्रतिनिधियों के जरिये जवाब भी दाखिल कर दिया था, वहीं स्पीकर से अधिक समय दिए जाने की मांग भी की। इस पर स्पीकर ने बागी विधायकों की मांग पर उन्हें रविवार सुबह नौ बजे तक का समय जवाब को पुष्ट करने और अन्य डॉक्यूमेंट जमा करने के लिए दे दिया। अमर उजाला  


See More

 
Top