.

.




हरिद्वार :  7 मार्च , 2016

दो दिन से चल रही धर्म सांसद में रविवार को पाकिस्तान को शत्रु देश व आतंकवादी देश घोषित करने की मांग की गई। इसके अलावा कई प्रस्ताव पारित करने के साथ दो दिन से चल रही धर्म संसद रविवार को समाप्त हो गई। धर्म संसद में देश के विश्वविद्यालयों में भी धर्म संसद आयोजित कर युवा पीढ़ी को संस्कारित करने का निर्णय भी लिया।

हरिपुर कलां स्थित श्रीभूमापीठ पर अंतिम दिन भूमापीठाधीश्वर स्वामी अच्युतानंद तीर्थ महाराज की अध्यक्षता और स्वामी प्रेमानंद सरस्वती के संचालन में संपन्न हुई धर्म संसद में वक्ताओं ने राष्ट्र धर्म और समाज के सामने उपस्थित कई चुनौतियों पर विचार रखे। स्वामी अच्युतानंद तीर्थ ने कहा कि सीमा पर सैनिकों का लहू बहाया जा रहा है। 

पाकिस्तान की ओर से हमारे सैनिकों की हत्या की जा रही है और हम मैत्री का राग अलापते जा रहे हैं। उन्होंने पाकिस्तान को शत्रु देश और आतंकवादी देश घोषित कर उससे हर तरह का व्यापारिक, सांस्कृतिक और कूटनीतिक संबंध समाप्त कर लिया जाए। इस प्रस्ताव को सर्वसम्मति से पारित किया गया। 

इसके अलावा सैनिकों के लिए रक्षा नीति बनाए जाने और शिक्षा को संस्कारपरक बनाने की दिशा में काम करने की जरूरत बताई गई। निवर्तमान शंकराचार्य स्वामी सत्यमित्रानंद ने कहा कि भारत की सनातन संस्कृति अपने आप में बेजोड़ है। पूर्व केंद्रीय गृह राज्यमंत्री चिन्मयानंद सरस्वती ने कहा कि राष्ट्रवाद का पाठ युवा पीढ़ी को बचपन से ही पढ़ाए जाने की जरूरत है। 

युवाओं को जोड़े संस्कार से :
स्वामी हरिचेतनानंद ने प्रस्ताव रखा कि भारत की संस्कृति और उसके महत्व को बताने के साथ ही युवाओं को संस्कारों से भी जोड़ने की जरूरत है। इसके लिए देश के विश्वविद्यालयों में भी धर्म संसद का आयोजन किए जाने पर बल दिया। हिंदू आतंकवाद के नाम पर जेलों में बंद साध्वी प्रज्ञा, स्वामी असीमानंद, दारा, कमलेश तिवारी आदि को निर्दोष बताते हुए उनकी रिहाई के लिए हिंदू रक्षा कोष बनाने पर भी धर्म संसद ने मुहर लगाई। 

पावनधाम के अधिष्ठाता स्वामी सहज प्रकाश, जूना अखाड़े के महंत विनोद गिरी, सामाजिक सेना के अध्यक्ष विनोद महाराज, प्रवक्ता स्वामी नरसिंहानंद, गिरधर स्वामी, स्वामी निगम बोध तीर्थ, स्वामी सत्यवेश, भक्त दुर्गादास आदि ने भी विचार रखें। 

विहिप के  राष्ट्रीय मार्गदर्शक बीएल शर्मा , हिंदू स्वाभिमान की राष्ट्रीय अध्यक्ष चेतना शर्मा, हिंदू जनजागृति समिति के राष्ट्रीय मार्ग दर्शक डा. चारुदत्त पिंगले, अखंड भारत मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष संदीप आहूजा, हिंदू महासभा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष  साध्वी देवा ठाकुर, बजरंग दल के प्रांतीय सहसंयोजक दीपक सिंह, अधीर कौशिक, त्यागी ब्राह्मण महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुनील त्यागी, अग्रवाल मंच के संयोजक अनिल गुप्ता, यादव महासभा के अनिल यादव, आर्यन उपाध्याय ने विचार रखे।

संचालन डा. प्रेमानंद  सरस्वती ने किया। धर्म संसद में इस्लामिक धर्म गुरुओं को कुरान और इस्लामिक इतिहास के संदर्भ में इस्लामिक जिहाद एवं जिहादी आतंकवाद पर खुली बहस का आमंत्रण दिया गया। अमर उजाला


See More

 
Top