.

.




देहरादून : 20 मार्च , 2016


बागी विधायकों पर सरकार का रुख सख्त। भाजपा के खिलाफ रथ भी निकालेगी कांग्रेस, दो चरण में अभियान। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय ने की पुकिया इकाइयां भंग करने का एलान।

कांग्रेस के बागी विधायकों के निर्वाचन क्षेत्रों की सभी कांग्रेस इकाइयों को भंग कर दिया गया है। दून में रविवार को प्रदेश कांग्रेस कमेटी की बैठक में यह फैसला किया गया। बैठक के बाद कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय ने इसका एलान भी किया। 

सरकार को गिराने की साजिश का आरोप लगाते हुए कांग्रेस ने अब भाजपा के खिलाफ दो चरणों में अभियान भी छेड़ दिया है। किशोर के मुताबिक कांग्रेस हर व्यक्ति तक पहुंचकर भाजपा की सरकार गिराने की साजिश को सामने रखेगी।  कुमाऊं और गढ़वाल के लिए अलग-अलग रथ भी भेजे जाएंगे।

बैठक के बाद मीडिया से मुखातिब किशोर ने कहा कि प्रदेश कांग्रेस कमेटी की बैठक में रुद्रप्रयाग, केदारनाथ, सितारगंज, रायपुर, रुड़की, खानपुर, रामनगर, नरेंद्रनगर और जसपुर विधानसभा क्षेत्र की ब्लॉक, नगर, ग्राम, बाजार और बूथ कांग्रेस कमेटियों को तत्काल प्रभाव से भंग कर दिया गया है। 

व्यक्तिगत लाभ के लिए काम कर बागी विधायक
अनुशासन समिति को भी निर्देश दिया गया है कि अनुशासनहीनता की किसी भी मामले में तत्काल कार्रवाई की जाए। किशोर ने इसे बदले की कार्रवाई मानने से इनकार किया और कहा कि यह भी देखने में आया कि बागी कांग्रेस विधायक पार्टी और सरकार को दरकिनार कर व्यक्तिगत लाभ के लिए काम कर रहे थे। पार्टी को मजबूत करने की बजाय इनकी कोशिश व्यक्ति विशेष को लाभ पहुंचाने की रही। 

किशोर ने कहा कि भाजपा के खिलाफ कांग्रेस ने दो चरण में अभियान छेड़ दिया है। पहले चरण की शुरूआत आज से ही की जा चुकी है। भंग की गई इकाइयों में नये लोगों को जल्द ही जिम्मेदारी दी जाएगी। 

इससे पहले प्रदेश कांग्रेस कमेटी की बैठक में पदाधिकारियों ने कई सुझाव दिये। बैठक में किशोर ने कहा कि बाहुबल और केंद्र के सत्ताबल के आधार पर भाजपा अरुणाचल प्रदेश, मणिपुर आदि राज्यों की तरह उत्तराखंड में भी सरकार गिराना चाह रही है। 

जिस समय सरकार का पूरा ध्यान चार धाम यात्रा, पेयजल संकट और सूखे पर होना चाहिए था, उस समय भाजपा ने सरकार को अस्थिर करने की कोशिश की है।  अमर उजाला


See More

 
Top