.

.




रुद्रपुर   : 03 मार्च , 2016

जिस प्यार के लिए घर की दहलीज लांघी उसी प्यार की राह ने एक किशोरी की जिंदगी में ताउम्र भर के लिए कांटे बो दिए। पहले ससुर ने किशोरी के साथ दुष्कर्म किया। इसके बाद सासू ने उसे एक ढोंगी बाबा के पास ढकेल दिया, जिसने किशोरी को अपनी हवस का शिकार बनाया। चलिए जानते हैं पूरी कहानी कि आखिर प्यार की यह राह कैसे किशोरी के लिए नरक बन गई। 

किच्छा रोड निवासी 14 वर्षीय किशोरी एक युवक से प्यार करती थी। अपने प्यार को घरवालों की कैद से आजाद करते हुए दोनों एक महीने पहले घर से फरार हो गए। दोनों ने रामपुर में भगवान को साक्षी मान एक दूसरे को पति-पत्नी मान लिया। इसके बाद दोनों घर लौट आए। 

मामला पुलिस के पास पहुंचा तो पुखबर लिस ने किशोरी की उम्र को देखते हुए दोनों को अपने-अपने घर भेज दिया। 23 फरवरी को युवक की मां किशोरी के घर आई और उसे अपने साथ ले गई। घरवालों ने भी सास का प्यार समझ इस बात पर ऐतराज नहीं जताया। 

इसके बाद महिला ने किशोरी को अपने पति के साथ धौराडाम भेज दिया। किशोरी का आरोप है कि उसके ससुर ने उसके साथ बलात्कार किया। इसके बाद महिला किशोरी को वापस किच्छा स्थित एक कुटिया में ले गई। यहां भी ढोंगी बाबा ने किशोरी को अपनी बदनीयत का शिकार बनाया। बेचारी किशोरी के पास अपनी नीयति पर रोने के सिवा कुछ नहीं था।  

किशोरी की कोई खोज खबर नहीं आने पर परिजनों ने उसे वापस भेजन का दबाव बनाया। इसके बाद महिला किशोरी को भदईपुरा ले आई, जहां से कुछ लोग उसे किच्छा स्थित उसके घर छोड़ दिया। घर पहुंची किशोरी ने घटना की सारी जानकारी परिजनों को बताई। पीड़ित पक्ष ने आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हुए एएसपी से गुहार लगाई। मामले को गंभीरता से लेते हुए एएसपी ने कोतवाली पुलिस को जांच कर आवश्यक कार्रवाई के निर्देश दिए। जागरण


See More

 
Top