.

.




काशीपुर  : 22 मार्च , 2016

सौतेली मां की करतूत पढ़कर आप भी चौंक जाएंगे। एक सौतेली मां ने बेटी को जबरन शराब पिलाई। इसके बाद तीन लोगों से उसका सामूहिक दुष्कर्म कराया। विरोध करने पर किशोरी की पिटाई कर दी। जानते हैं पूरा मामला।

मामला काशीपुर क्षेत्र का है। यहां सत्रह वर्षीय किशोरी सौतेली मां साथ रहती है। आरोप है कि बीती रात तीन युवक शराब लेकर उसके घर पहुंचे। सौतेली मां ने किशोरी को जबरन दो गिलास शराब पिलाई। इस बीच इसी बीच तीनों युवकों ने उसके कपड़े फाड़ दिये।


जबरदस्ती का प्रयास करने लगे तो उसने विरोध किया। इस पर आरोपियों ने उसकी पिटाई कर दी। इसके बाद आरोपी युवकों ने सामूहिक दुष्कर्म किया। होश आने पर उसने शोर मचाया तो उसके भाई मौके पर आए। तब तक आरोपी युवक वहां से भाग निकले थे।

परिजनों ने किशोरी को एलडी भट्ट अस्पताल में भर्ती कराया। चिकित्सक ने जब अस्पताल के एक कर्मचारी को पीआइ रजिस्टर लेकर कोतवाली भेजा तो पुलिस ने महिला पुलिस न होने की बात कहकर पीआइ लेने से मना कर दिया। इस मामले में किशोरी की सौतेली मां द्वारा युवकों से गलत कार्य करने के एवज में तीन हजार रुपये लिए जाने की बात भी सामने आ रही है। 

इस संबंध में काशीपुर स्थित एलडी भट्ट अस्पताल के डॉ. विकास गहलौत ने कहा कि शनिवार की रात अस्पताल में दुष्कर्म पीड़ित एक किशोरी आई थी। इस मामले में सूचना देकर किशोरी की मेडिकल जांच कराने को कहा गया तो पुलिस ने महिला पुलिस न होने की बात कहकर जांच कराने से मना कर दिया।

इस संबंध में कोतवाल राजन लाल आर्य ने कहा कि अस्पताल से सूचना आई थी कि एक नाबालिग के साथ दुष्कर्म हुआ है। इसकी मेडिकल जांच कराने के लिए महिला पुलिस की मदद मांगी गई थी। महिला पुलिस न होने से चिकित्सक से आइटीआइ या कुंडा थाने से महिला पुलिस की मदद लेने को कहा गया था। किशोरी के साथ सामूहिक दुष्कर्म नहीं हुआ है। वह घर पर लेट पहुंची, इसलिए परिजनों ने उसके साथ मारपीट की है | जागरण


See More

 
Top