.

.



देहरादून: 03 अप्रैल  , 2016

परीक्षा में मैथ्स पड़ी भारी, फिजिक्स आसान, केमिस्ट्री कुछ मुश्किल
गत वर्षों की तुलना में आसान रहा प्रश्न पत्र, कुछ सवालों पर आशंका
विशेषज्ञों के मुताबिक 110 तक जाएगी एडवांस के लिए कटऑफ

आईआईटी, एनआईटी और देश के अन्य तकनीकी संस्थानों में दाखिले को होने वाली जेईई मेंस परीक्षा ऑफलाइन में अभ्यर्थियों के लिए गणित सबसे भारी साबित हुआ। इसमें पूछे गए घुमावदार सवालों को हल करने का छात्रों का प्रतिशत काफी कम रहा। जबकि भौतिक और रसायन में अपेक्षाकृत ज्यादा आसान सवाल पूछे गए।

विशेषज्ञों के मुताबिक सामान्य श्रेणी के उन अभ्यर्थियों को जेईई एडवांस में जाने का मौका मिल सकता है कि जो कि 110 अंक हासिल कर लें। कटऑफ इसलिए भी डाउन जा सकती है, क्योंकि इस साल डेढ़ लाख के बजाय दो लाख अभ्यर्थियों का चयन जेईई एडवांस के लिए किया जाएगा। 

पैटर्न में इस बार नहीं किया गया कोई भी बदलाव-
जेईई मेंस ऑफलाइन के पेपर पैटर्न में इस बार कोई भी बदलाव नहीं किया गया। बोर्ड पहले ही इसके संकेत दे चुका था। फिजिक्स, केमिस्ट्री और मैथ्स के 90 सवाल पूछे गए। सही सवाल पर चार अंक यानी कुल मिलाकर 360 अंकों का प्रश्न पत्र हुआ। 

विशेषज्ञों के मुताबिक इनमें से सामान्य श्रेणी के जो अभ्यर्थी 110 तक अंक ले आएंगे, उन्हें जेईई एडवांस के लिए क्वालिफाई करने का मौका मिल जाएगा। कई विशेषज्ञ इस साल कटऑफ 115 रहने तक की उम्मीद भी जता रहे हैं।   अमर उजाला


See More

 
Top