.

.



देहरादून  : 19 अप्रैल  , 2016

देहरादून। चार धाम यात्रा में आने वाले तीर्थ यात्रियों एवं पर्यटकों की सुरक्षा एवं यात्रा को सुव्यवस्थित रूप से सम्पन्न कराने के उद्देश्य से इस वर्ष भी फोटोमैट्रिक पंजीकरण की व्यवस्था की गई है। यात्रा शुरू होने से पहले ही इस साल चार धाम यात्रा के लिए अब तक 68 यात्री आनलाइन पंजीकरण करा चुके हैं। 

सचिव पर्यटन शैलेश बगोली ने बताया कि मैसर्स त्रिलोक सिक्योरिटी सिस्टम की ओर से गतवर्ष 2015 में प्रदेश के कुल 11 स्थानों  रेलवे स्टेशन हरिद्वार, रोडवेज बस स्टैंड ऋषिकेश, हेमकुंड  गुरूद्वारा ऋषिकेश, जानकीचट्टी, गंगोत्री, गुप्तकाशी, फाटा, सोनप्रयाग, केदारनाथ, पांडुकेश्वर एवं गोविंदघाट में पंजीकरण केंद्र  स्थापित किए गए थे। 

इस वर्ष इन पंजीकरण केंद्रों की संख्या में वृद्धि करते हुए तीन नए स्थान पंडित दीनदयाल उपाध्याय पार्किंग हरिद्वार, उत्तरकाशी के हीना तथा दोबाटा में भी पंजीकरण केंद्र खोले जा रहे हैं। इनमें हरिद्वार में पंजीकरण केंद्र स्थापित कर दिया गया है, जबकि हीना एवं दोबाटा में आवश्यक व्यवस्थाएं की जा रही हैं। 

उन्होंने बताया कि इसके साथ ही देश विदेश से चारधाम आने वाले यात्रियों के लिए आनलाइन पंजीकरण की सुविधा 50 रुपये  प्रतिव्यक्ति की दर से इस बार भी सुलभ रहेगी। चार धाम 2016 के लिए अब तक 68 यात्रियों ने आनलाइन पंजीकरण कराया है।  जागरण

देहरादून  : 19 अप्रैल  , 2016

देहरादून। चार धाम यात्रा में आने वाले तीर्थ यात्रियों एवं पर्यटकों की सुरक्षा एवं यात्रा को सुव्यवस्थित रूप से सम्पन्न कराने के उद्देश्य से इस वर्ष भी फोटोमैट्रिक पंजीकरण की व्यवस्था की गई है। यात्रा शुरू होने से पहले ही इस साल चार धाम यात्रा के लिए अब तक 68 यात्री आनलाइन पंजीकरण करा चुके हैं। 

सचिव पर्यटन शैलेश बगोली ने बताया कि मैसर्स त्रिलोक सिक्योरिटी सिस्टम की ओर से गतवर्ष 2015 में प्रदेश के कुल 11 स्थानों  रेलवे स्टेशन हरिद्वार, रोडवेज बस स्टैंड ऋषिकेश, हेमकुंड  गुरूद्वारा ऋषिकेश, जानकीचट्टी, गंगोत्री, गुप्तकाशी, फाटा, सोनप्रयाग, केदारनाथ, पांडुकेश्वर एवं गोविंदघाट में पंजीकरण केंद्र  स्थापित किए गए थे। 

इस वर्ष इन पंजीकरण केंद्रों की संख्या में वृद्धि करते हुए तीन नए स्थान पंडित दीनदयाल उपाध्याय पार्किंग हरिद्वार, उत्तरकाशी के हीना तथा दोबाटा में भी पंजीकरण केंद्र खोले जा रहे हैं। इनमें हरिद्वार में पंजीकरण केंद्र स्थापित कर दिया गया है, जबकि हीना एवं दोबाटा में आवश्यक व्यवस्थाएं की जा रही हैं। 

उन्होंने बताया कि इसके साथ ही देश विदेश से चारधाम आने वाले यात्रियों के लिए आनलाइन पंजीकरण की सुविधा 50 रुपये  प्रतिव्यक्ति की दर से इस बार भी सुलभ रहेगी। चार धाम 2016 के लिए अब तक 68 यात्रियों ने आनलाइन पंजीकरण कराया है।  जागरण



See More

 
Top