.

.






देहरादून: 19 अप्रैल  , 2016

जिस तरह दिल्ली के ‌मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल प्रदर्शनकारियों के साथ सड़क पर बिस्तर लगाकर सो गए थे, कुछ उसी तरह उत्तराखंड के पूर्व ‌मुख्यमंत्री भी करते दिखाई दिए। देहरादून के कनक चौक पर अतिथि ‌‌शिक्षकों के समर्थन में पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत भी पहुंचे और वहीं खुले आसमान के नीचे सो गए। इस दौरान पूर्व शिक्षा मंत्री मंत्री प्रसाद नैथानी संग कई नेता भी वहां मौजूद रहे। लोगों से बात करते पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत। इससे पूर्व अतिथि शिक्षकों के समर्थन में कनक चौक के पास सड़क के बीचोंबीच मुख्यमंत्री हरीश रावत धरने पर बैठ गए। उन्होंने कहा कि अतिथि शिक्षकों के संबंध में हुए शासनादेश की उन्हें कोई जानकारी नहीं है।  यदि ऐसा कोई जीओ हुआ है, तो वह स्वागत योग्य है। उन्होंने निवर्तमान शिक्षा मंत्री को विभागीय अधिकारियों द्वारा कोई जानकारी न दिए जाने को दुर्भाग्यपूर्ण बताया। कहा कि वे अतिथि शिक्षकों के मामले को लेकर निवर्तमान शिक्षा मंत्री मंत्री प्रसाद नैथानी के समर्थन में यहां आए है। रावत ने कहा कि हमारी सरकार ने कई फैसले किए, लेकिन केंद्र सरकार ने उनको बदल दिया। जबकि सरकार के फैसले को चुनी हुई सरकार ही बदल सकती है। अमर उजाला



See More

 
Top