.

.


देहरादून : 05 अप्रैल  , 2016

नए वित्तीय वर्ष में पानी के बाद बिजली भी झटका देने को तैयार है। विभिन्न श्रेणी में बिजली की दरों में पांच फीसद की बढ़ोतरी करते हुए घरेलू श्रेणी की दरों में 26 पैसे प्रति यूनिट का इजाफा किया गया है। वहीं, कॉमर्शियल श्रेणी की औसत दर प्रति यूनिट 28 पैसे बढ़ाई गई। हालांकि यह वृद्धि दर पिछले साल के मुकाबले 2.14 फीसद कम है। फिक्स चार्ज में भी खपत के हिसाब से न्यूनतम पांच रुपये और अधिकतम 30 रुपये की बढ़ोतरी की गई है। सबसे कम वृद्धि निजी नलकूप व एचटी (हाई टेंशन) इंडस्ट्रीज में की गई है।


आज उत्तराखंड विद्युत नियामक आयोग (यूईआरसी) के अध्यक्ष सुभाष कुमार ने बिजली की नई दरें घोषित की। उन्होंने बताया कि ऊर्जा निगम ने विभिन्न निवेश का हवाला देते हुए दरों में 24.96 फीसद बढ़ोतरी का प्रस्ताव दिया था। प्रदेशभर में की गई जन सुनवाई व परीक्षण के बाद निगम के कई तर्कों को खारिज करते हुए नई दरों में 4.99 फीसद बढ़ोत्तरी पर मुहर लगाई गई।

सुभाष कुमार ने बताया कि प्रदेश में वित्तीय वर्ष 2003-04 से शुरू की गई बिजली की दरों में बढ़ोतरी की व्यवस्था के बाद यह दूसरी सबसे कम वृद्धि है। उन्होंने बताया कि बिजली व्यवस्था में सुधार के लिए ऊर्जा निगम समेत उत्तराखंड जल विद्युत निगम व उत्तराखंड विद्युत पारेषण निगम को 2104 करोड़ रुपये निवेश की स्वीकृति दी गई है।

इस तरह बढ़ीं बिजली
(औसत बिलिंग दर प्रति यूनिट रुपये में)


श्रेणी वर्तमान नई दर वृद्धि
घरेलू 3.30 3.56 0.26
कॉमर्शियल 5.16 5.44 0.28
पब्लिक लैंप्स 4.47 4.79 0.32
निजी नलकूप 1.40 1.55 0.15
सरकारी सिंचाई 4.59 4.84 0.25
पब्लिक वाटर वक्र्स 4.58 4.81 0.23
एलटी इंडस्ट्रीज 4.86 5.15 0.29
एचटी इंडस्ट्रीज 4.98 5.17 0.19
मिश्रित भार 4.35 4.75 0.39
रेलवे 4.58 5.04 0.46
जागरण


See More

 
Top