.

.



चम्पावत   : 27 मई, 2016

फेल होने पर चम्पावत में एक छात्रा फांसी ने फांसी लगाकर जान दे दी। जबकि दो छात्राओं ने जहर खा लिया। दोनों को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जिला मुख्यालय से लगे सेलाखोला गांव में इंटर की परीक्षा में फेल होने पर चन्द्रकला ने पास के गधेरे में फांसी के फंदे पर झूलकर खुदकुशी कर ली। दोपहर परिणाम आने के बाद जब चन्द्रकला को पता चला कि वह फेल हो गयी तो वह घर से निकल गयी। परिजनों ने तलाया की तो वह पेड़ से लटकी मिली। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल पहुंचाया।

वहीं, दूसरी घटना में दसवीं कक्षा में फेल होने पर 15 साल की एक छात्रा ने कीटनाशक खाकर जान देने की कोशिश की। जिला मुख्यालय के निकट पुनेठी निवासी दसवीं की छात्रा फेल होने पर घर में रखा कीटनाशक पीकर जीवन लीला समाप्त करने की कोशिश की। घटना की सूचना मिलते ही परिजनों ने उसे जिला चिकित्सालय पहुंचाया। अस्पताल प्रभारी डा. आरपी खडूंड़ी और डा. उदय शंकर ने बताया कि छात्रा को अभी निगरानी में रखा गया है।

उसकी हालत स्थिर बनी हुई है। तीसरी घटना टनकपुर में घटी। यहां हाईस्कूल परीक्षा में फेल होने पर वर्मा लाइन निवासी छात्रा ने जहर खा लिया। परिजनों ने बताया कि छात्रा रिजल्ट देखने बाजार गयी थी, जिसके बाद घर लौटने के कुछ देर बाद अचानक से चक्कर आकर गिर गई। जिसके बाद उसे आनन फानन में में उसे संयुक्त चिकित्सालय लाया गया।  हिन्दुस्तान


See More

 
Top