.

.







उत्तराखंड तथ्य   : 12 जुलाई , 2016

टिहां एक ओर भगवान बदरी अपने भक्तों को वरदान देते हैं वहीं बदरीनाथ में मौजूद यह प‌वित्र जल की धारा पापियों के पाप हर लेती है। इन दिनों देवभूमि उत्तराखंड में चारधाम यात्रा जोरों पर है। अपनी कई मन्नतों के साथ भक्त जन बदरीनाथ, केदारनाथ, यमुनोत्री और गंगोत्री धाम में पहुंच रहे हैं। लेकिन इनमें से बहुत से  लोगों की इस पवित्र जल धारा के बारे में नहीं पता है। पौराणिक मान्यताओं के मुताबिक बदरीनाथ में स्थित वसुधारा झरने में स्नान मात्र से पापियों के पाप कम हो जाते हैं। यह झरना बद्रीनाथ से नौ किमी की दूरी पर स्थित है। इसकी खूबसूरती देखते ही बनती है। इस झरने में जल की धारा लगभग 400 फीट ऊंचाई से गिरती है और मोतियों सी प्रतीत होती है। यह झरना इतना ऊंचा है कि पर्वत के मूल से पर्वत शिखर तक पूरा झरना एक नज़र में नहीं देखा जा सकता। इस झरने की सुंदरता देखते ही बनती है। यहां आकर पर्यटकों को स्वर्ग में होने की अनुभूति होती है। यहां पहुंचकर पर्यटक अपनी थकान भूल जाते हैं।
 अमर उजाला 



See More

 
Top