.

.





उत्तराखंड में बारिश कहर बनकर बरपी खासकर पिथौरागढ और चमोली में बरसात से भारी नुकसान की खबरें आ रही हैं, लेकिन सबसे बडा सवाल है कि मौके पर स्थानीय प्रशासन कहीं नहीं दिखाई दिया , यह एक अच्छी खबर है कि सीमांत जनपद होने के चलते सेना और आईटीबीपी की टीमें राहत कार्यों में मुस्तैदी से जुटी है, लेकिन आखिर क्यों हम हर साल हो रही बरसात और आ रही आपदाओ से सबक नहीं लेते हैं, आखिर कब सत्ताधारी लोग एसी कमरों की वीआईपी मीटिगों और रोजा इफ्तार की दावतें छोड जमीनी हकीकतों की सुध लेंगें|


See More

 
Top