.

.




पौड़ी: 23 अगस्त , 2016



पौड़ी के पाबौ ब्लॉक के बिडोलस्यूं पट्टी स्थित मरोड़ा गांव में सोमवार शाम बादल फटने से तबाही आ गई। गांव में एक महिला लापता है। दो दर्जन से अधिक गौशालाएं बह गई हैं। पचास से अधिक मवेशी मलबे में दफन हो गए हैं।




जिला प्रशासन, पुलिस व जिला आपदा प्रबंधन की टीम ने मौके पर पहुँच कर राहत व बचाव अभियान शुरू कर दिया है। उपजिलाधिकारी पीएल शाह ने बताया कि क्षेत्र में हुई तेज बरसात के साथ मरोड़ा गांव के समीप बादल फट गया। मवेशियों को चारा डालने गई अनीता देवी (33) पत्नी प्रवींद्र सिंह के अतिवृष्टि की चपेट में आने की आशंका जताई जा रही है। आपदा प्रबंधन, जिला प्रशासन व ग्रामीणों की मदद से टीम महिला की तलाश करने में जुटी है। दो दर्जन से अधिक गौशालाएं भी बह गई हैं। पचास से अधिक मवेशी जमींदोज हो गए हैं। गांव को जोड़ने वाली पैदल पुलिया भी बह गई है। क्षेत्र में बिजली व मोबाइल के नेटवर्क भी ठप पड़ गए हैं।



शनिवार को भी क्षेत्र में बादल फटने से मची थी तबाही

मानसून के आखरी पड़ाव पौड़ी जिले के दूरस्थ गांवों पर कहर बनकर टूट रहा है। बरसात के अंतिम पड़ाव में लोग भयभीत होने लगे हैं। ग्रामीण कुदरत की इस मार के आगे बेबस हैं।


पाबौ ब्लॉक के मरखोला गांव में शनिवार की देर सायं बादल फटने से मची तबाही से लोग अभी उबर भी नहीं पाए थे कि सोमवार को फिर से ब्लाक के मरोड़ा गांव में कुदरत आफत बनकर टूट गई। अमर उजाला


See More

 
Top