देहरादून- पुलिस की वर्दी का दुरुपयोग कैसे होता है, इसकी बानगी कोतवाली के पलटन बाजार में सोमवार को दिखी। स्थानीय लोगों की शिकायत पर एसएसपी ने कोतवाली पुलिस शख्स की तलाश के निर्देश दिए। दोपहर बाद पुलिस ने उसे ढूंढ निकाला, पता चला कि उसे कुछ व्यापारियों ने बाजार की व्यवस्था ठीक रखने के लिए वर्दी दिलाई थी।

दरअसल, पलटन बाजार में एक शख्स कई दिनों से सुबह होते ही पुलिस की वर्दी पहनकर पहुंच जाता और फल-ठेली वालों पर धौंस दिखाता। उसकी वर्दी पर दारोगा की तरह दो स्टार भी लगे थे, उत्तराखंड पुलिस का बैज और नेम प्लेट नहीं थे। इस बात पर भी लोगों को शक हुआ कि यह कौन सा पुलिसकर्मी है जो पूरे दिन बाजार में ही घूमता रहता है।

पूछताछ करने पर दिखाया व्यापार संगठन का कार्ड

कुछ लोगों ने सोमवार को उसे रोककर पूछताछ की तो उसने एक व्यापारी संगठन की ओर से जारी कार्ड दिखाया। इसकी जानकारी दोपहर में एसएसपी निवेदिता कुकरेती को दी गई। एसएसपी ने कोतवाली पुलिस से जांच कराई। पता चला कि यह शख्स बाजार में ही घूमता रहता है। व्यापारियों ने कहा कि उसे बाजार की व्यवस्था बनाए रखने के लिए रखा गया है। एसएसपी ने बताया कि संबंधित व्यक्ति को चेतावनी दी गई है कि वह आगे से खाकी वर्दी नहीं पहनेगा। यदि दोबारा ऐसा करते पाया गया तो कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

आदेश के बाद भी वर्दी किसने सील कर दी

पुलिस ने हाल ही में अभियान चलाकर शहर के टेलरों को चेताया था कि वह बिना लिखित आदेश के पुलिस या सेना की वर्दी नहीं सिलेंगे। ऐसे में सवाल उठता है कि इस शख्स की वर्दी किसने सिल दी।



http://ift.tt/2BVabQT


See More

 
Top