वह चंचल सी, मासूम सी चांदनी अब नहीं रही। सिने अभिनेत्री श्रीदेवी की दुबई में बाथटब में डूबने से मौत हो गई। आज उनका अंतिम संस्कार किया जाएगी। बॉलीवुड़ की बेहतरीन अदाकार श्रीदेवी के निधन से ना सिर्फ हिंदी सिनेमा बल्कि पूरा भारतवर्ष शोक में हैं। बॉलीवुड़ की चांदनी का यूं अचानक चला जाना सभी फैंस को सदमा दे गया है।

श्रीदेवी कुछ वर्ष पूर्व उत्तराखंड की शांत वादियों में कुछ सुकून के पल बिताने आई थी। एक न्यूज पोर्टल में पब्लिश खबर के मुताबिक श्रीदेवी ऋषिकेश के गंगा किनारे बने एक रिजार्ट में दो दिन तक रुकी थी। वह सुबह चार बजे गंगा किनारे और लक्ष्मण झूला की सैर करती थी। इस दौरान श्रीदेवी ने ना तो किसी कार्यक्रम में शिरकत की थी और ना ही मीडिया से बात की थी। वह यहां की वादियों में कुछ दिन शांति से बिताना चाहती थी।

 

इससे पहले भी श्रीदेवी नब्बे के दशक में अनिल शर्मा के निर्देशन में बनी फिल्म फरिश्ते के एक गाने ‘तेरे बिना जग लगता है सूना की शूटिंग के लिए मसूरी आई थी। इस गाने की शूटिंग कैंप्टीफॉल की सुंदरवादियों में हुई थी।

कैंप्टीफॉल में अलग-अलग लोकेशन में फिल्म फरिश्ते के एक गाने के सीन को शूट किया गया था। उस वक्त श्रीदेवी ने यहां की खूबसूरत वादियों और मौसम की जमकर तारीफ की थी। उन्होंने कहा था कि उन्हें मसूरी से बेहद प्यार है, इसीलिए वे यहां पर फिल्म की शूटिंग के लिए आयी हैं।

गौरतलब है कि श्रीदेवी की अंतिम फिल्म शाहरुख खान की फिल्म जीरो होगी। इससे पहले वह मॉम में नजर आई थी। श्रीदेवी अपनी बेटियों को भी पर्दें पर सुपरस्टार बनते देखना चाहती थी लेकिन नियति देखिए, जुलाई में श्रीदेवी की बेटी जाह्नवी की डेब्यू फिल्म धड़क रिलीज होने वाली हैं लेकिन इससे पहले उन्होने श्रीदेवी ने दुनिया को अलविदा कह दिया।

The post जब शांति और सुकून के पल बिताने उत्तराखंड आई थी श्रीदेवी appeared first on www.dainikuttarakhand.com.



http://ift.tt/2GQlWaT


See More

 
Top