देहरादून: मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने गुरूवार को मुख्यमंत्री आवास में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग की ओर से आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लिया। इस मौके पर उन्होंने 12000 आशा कार्यकत्रियों और करीब 2100 एएनएम के लिए दुर्घटना बीमा योजना की घोषणा की।

मुख्यमंत्री ने कहा कि दुर्घटना और अपंगता की स्थिति में सरकार आशा और एएनएम को 2 लाख रूपये तक की बीमा कवर देगी। उन्होंने कहा कि जच्चा-बच्चा की प्रारंभिक देख-भाल की जिम्मेदारी आशा कार्यकत्रियों और एएनएम की होती है। जन स्वास्थ्य में इनकी भूमिका बेहद महत्वपूर्ण है। इसके अलावा मुख्यमंत्री ने सभी एएनएम को कंप्यूटर टैबलेट देने की भी घोषणा की। साथ ही सीएम प्रदेश की आशा कार्यकत्रियों के लिए 33 करोड़ रूपये की प्रोत्साहन राशि जारी की। आशा कार्यकत्रियों की प्रोत्साहन राशि 2012-13 से रूकी हुई थी। इससे प्रत्येक आशा कार्यकत्री को लगभग 25 हजार रूपये मिलेंगे। हालांकि आशाओं की कई मांगें अब भी पूरी नहीं हुई हैं। उनकी प्रमुख मांगों में 18000 रुपये न्यूनतम वेतन और राज्य कर्मियों की तरह अन्य सुविधाएं देने की हैं।

The post महिला दिवस पर आशाओं की आस पूरी appeared first on Hello Uttarakhand News.



from http://ift.tt/2FElmA5


See More

 
Top