देहरादून की पूनम टोडी ने उत्तराखंड न्यायिक सेवा परीक्षा, पीसीएस (जे) में प्रदेश में पहला स्थान हासिल किया है। बेहद साधारण पारिवारिक पृष्ठभूमि वाली पूनम के पिता आटो चलाते हैं और मां ग्रहिणी हैं। पीसीएस (जे) परीक्षा में सर्वोच्च स्थान हासिल कर पूनम ने साबित कर दिखाया है कि कड़ी मेहनत और मजबूत इरादे हों तो कठिन हालात कभी आड़े नहीं आ सकते।

पूनम के पिता अशोक टोडी ऑटो चलाते हैं। वह बताते हैं कि दिन का 400-500 रुपये ही कमा पाते हैं। इस कम आमदनी में परिवार का भरण पोषण बहुत मुश्किल से किया। उनकी दो बेटियां और दो बेटे हैं। जिनमें उन्होंने कभी फर्क नहीं किया। उन्हें अच्छी शिक्षा देने के लिए घर के अन्य खर्चों में कटौती की। वह कहते हैं कि बच्चे ही जीवन की असल पूंजी हैं और बेटी ने यह सच भी कर दिखाया है। पूनम ने उनका सिर फक्र से ऊंचा कर दिया है। मां लता ने कहा कि उन्हें अपनी बेटी पर नाज है।

पूनम ने उन लोगों को भी करार जवाब दिया है, जो अंकों के आधार पर व्यक्ति की सफलता का आकलन करते हैं। उस समाज को आइना दिखाया है, जहां बोर्ड परीक्षा के प्राप्तांक पर बच्चों का भविष्य तय होता है। वह बताती हैं कि दसवीं एमकेपी इंटर कॉलेज से की। जिसमें 54 फीसद अंक मिले। इसके बाद 61 प्रतिशत अंक के साथ डीएवी इंटर कॉलेज से बारहवीं की। डीएवी पीजी कॉलेज से ही यूजी, पीजी और फिर लॉ की पढ़ाई की। अब वह एसआरटी, बाहशाहीथौल से एलएलएम कर रही हैं।

 

 

The post ऑटो चालक की बेटी ने उत्‍तराखंड पीसीएस-जे परीक्षा में किया टॉप appeared first on www.dainikuttarakhand.com.



http://ift.tt/2Fbmrij


See More

 
Top