मॉस्को|…. सोमवार को रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने कहा कि ब्रिटेन को पूर्व रूसी जासूस सर्गेइ स्क्रिपल को जहर देने के मामले में मॉस्को से चर्चा करने से पहले इसकी तह तक जाना चाहिए.समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने पुतिन के हवाले से बताया, “पहले चीजों की तह तक जाएं, फिर हम इस पर चर्चा करेंगे.”

स्क्रिपल (66) को ब्रिटिश सीक्रेट इंटेलिजेंस सर्विस एमआई-6 के साथ सहयोग करने और यूरोप में रूस के अंडकवर खुफिया अधिकारियों के नाम का खुलासा करने के लिए 2006 में रूस में 13 वर्षो की कैद की सजा सुनाई थी. 2010 में स्क्रिपल को जासूसों की अदला-बदली कानून के तहत माफ कर दिया गया था और ब्रिटेन भेज दिया गया था.

गौरतलब है कि स्क्रिपल और उनकी 33 वर्षीया बेटी युलिया पांच मार्च को एक शॉपिंग सेंटर के बेंच पर बेहोशी की हालत में मिले थे.दोनों फिलहाल अस्पताल में हैं और इनकी हालत गंभीर बनी हुई है.

इससे पहले सोमवार को रूस के प्रवक्ता दिमित्री पेस्कोव ने कहा कि यह घटना ब्रिटेन में हुई है और यह रूस का मामला नहीं है. ब्रिटेन की प्रधानमंत्री थेरेसा मे ने कहा है कि स्क्रिपल और उनकी बेटी को जहर देने के मामले में रूस का हाथ होने की प्रबल संभावना है. इस संबंध में ब्रिटेन में रूस के राजदूत को तलब भी किया गया.



http://ift.tt/2tHGalb


See More

 
Top