लक्सर- लकसर कोतवाली क्षेत्र के एक गांव की युवती की शादी जवालापुर हरिद्वार के मोहल्ला टीबडी में हुई. घर पर बहू के आने पर एक ओऱ जहां पूरा परिवार खुश था. वहीं दूसरी ओर बहू को ये प्यार रास नहीं आ रहा था. क्योंकि बहू किसी और से ही प्रेम करती थी. पगफेरे के लिए बहू मायके जाने की तैयारी में थी. लेकिन परिवार वालों को क्या मालूम था कि बहू पग फेरे के बाद वापस ही नहीं आयेगी.

नयी नवेली दुल्हन ने फोन करके बुलाया आशिक को

आपको बता दें शादी को एक ही दिन बीता था अगले दिन दूल्हा अपनी नई नवेली दुल्हन सीमा को उसके घर पगफेरे की रस्म के लिए ले गया. ससुराल में मिलाने के बाद जब वापस लौट रहा था तो गांव से बाहर निकल कर नई नवेली दुल्हन ने गाड़ी रुकवा दी और अपने प्रेमी को बुला लिया और अपने पति को छोड़ प्रेमी संग जाने की जिद पर अड़ गई.

मामला बढ़ता देख कोतवाली पुलिस को इसकी सूचना दी गई. जिसके बाद पुलिस सभी को पूछताथ के लिए कोतवाली ले आई.

तीन साल से प्रेमी से सम्बंध

दुल्हन का कहना है कि प्रमी संग उसका सम्बंध तीन साल से है और इसी के साथ शादी करेगी. नवविवाहिता का ये भी कहना है कि ने बताया कि मैं शादी से मना कर रही थी, मगर घरवालों ने मेरी मर्जी के बिना जबरदस्ती मेरी शादी की है।

बेहोशी की हालत में दिलाए गए फेरे-दुल्हन

दुल्हन का कहना है कि उसने गुस्से में आकर आठ गोली नींद की खा ली थी औऱ बेहोशी की हालत में ही गोद में उठाकर सात फेरे दिलाए गए. औऱ अगले दिन सुबह होश आया. दुल्हन दूल्हे के साथ जाने से कतई मना कर रही है.

वहीं फिल्मी ड्रामे को देखते हुए दुल्हन और उसके प्रेमी के परिजनों को लक्सर कोतवाली बुलाया और लड़की को उनके परिजनों के साथ भेजना चाहा मगर लड़की ने परिजनों के साथ जाने से मना कर दिया और जिद्द पर अड़ी रही.

वहीं पूरे मामले में पति का कहना है कि वह जहां खुश है वहां रहे. पति का कहना है कि जिद्द में अगल लड़की को घर ले गया और लड़की ने गु्स्से में आकर अपने को क्षति पहुंचाई तो उसका जिम्मेदार मुझे माना जाएगा.



http://ift.tt/2FxbHvE


See More

 
Top