देहरादून की रहने वाली पूनम टोडी ने पीसीएसजे(PCSJ) पेपर में उत्‍तराखंड टॉप करके मिसाल कायम की है। पूनम के पिता एक ऑटो चालक है और पिछले 30 सालों से ऑटो रिक्शा चलाकर वह अपना परिवार चला रहे हैं। ऐसे में पूनम टोडी ने पीसीएसजे टॉप करके अपने और अपने परिवार के सपने को साकार कर दिखाया है। देहरादून के नेहरु कॉलोनी के बी ब्‍लॉक की निवासी पूनम टोडी अभी एलएलबी और टिहरी चंबा से एलएलएम कर रही हैं।

पूनम अपनी इस सफलता पर कहतीं है कि मेरे परिवार ने मेरी मदद हर पड़ाव पर की और मुझे किसी भी प्रकार की धन संबंधी समस्या नहीं आने दी। वह कहतीं हैं कि मैं देशभर के सभी माता-पिता से यह अनुरोध करती हूं कि वह भी अपनी बेटियों को पढ़ाएं-लिखाएं जिससे आगे चलकर वह भी गौरवान्वित हो सकें।

पिता देहरादून में ऑटो चालक

पूनम टोडी की सफलता अपने आप में एक मिसाल है, और देहरादून में पिछले 30 सालों से उनके पिता अशोक टोडी ऑटो चलाने का काम करते आ रहे हैं। बेटी की इस सफलता से उनका भी सिर गर्व से ऊंचा हो गया है।

 

इसे भी पढ़े: दिल्ली: AAP पार्टी की बढ़ीं मुश्किलें, मुख्य सचिव मारपीट मामले में दो विधायकों को नोटिस

यूपीएपीओ का पेपर भी पास कर चुकी है पूनम

अपनी स्‍टडी के साथ ही पूनम टोडी इससे पहले यूपी एपीओ की परीक्षा भी पास कर चुकी है। पूनम का सपना पीसीएसजे पास करना था और अपने इस सपने को साकार होते देख वह बेहद खुश हैं।

परिवार और दोस्‍तों को दिया सफलता का श्रेय 

पूनम टोडी ने अपने इस सफलता का श्रेय अपने परिवार और दोस्‍तों को दिया है। उनकी माता हाउसवाइफ है और परिवार में एक बहन और दो भाई है,पिता अशोक टोडी ऑटोचालक है।

तीसरे प्रयास में मिली सफलता

पूनम टोडी को अपने तीसरे प्रयास में पीसीएसजे में सफलता मिली हैं। इससे पहले वह दो बार पीसीएसजे के साक्षात्‍कार में पहुंची थी लेकिन सफलता नहीं मिल सकी थी। पूनम टोडी ने अपनी स्‍टडी के लिए दिल्‍ली में कुछ समय तक कोचिंग भी ली थी लेकिन बाद में वह देहरादून स्थित अपने आवास आ गई थी और घर पर रहकर ही सेल्फ स्‍टडी कर रही थीं।

 



from http://ift.tt/2oEXqBS


See More

 
Top