बैसाखी के पावन स्नान के लिए श्रद्धालुओं का सैलाब धर्मनगरी हरिद्वार पहुंच चुका है। हर वर्ष अप्रैल को होने वाले बैशाखी स्नान के लिए श्रद्धालु हरिद्वार आते हैं।

ग्रह नक्षत्रों के हिसाब से इस बार बैशाखी का पुण्य काल एवं मेष संक्रांति का मुख्य स्नान 14 अप्रैल को है। 14 अप्रैल को सुबह 8.10 बजे सूर्य नारायण अश्विन नक्षत्र में प्रवेश करेंगे। उसके बाद गंगा स्नान से कई पुण्यदायी योग स्नानार्थियों को मिलते हैं।

इस बार मेष संक्रांति का महत्व इसलिए भी अधिक बढ़ गया है क्योंकि संक्रांति और सोमवती अमावस्या एक दिन के अंतराल से पड़ रही हैं। यह स्नान 13 जनवरी को होने वाले लोहड़ी स्नान की तरह 13 अप्रैल को पड़ता है।

इस बार विशेषता यह है कि मेष संक्रांति और बैशाखी एक साथ 14 अप्रैल को पड़ रहे हैं। 14 अप्रैल को जब बैशाखी और संक्रांति का मुख्य स्नान प्रारंभ होगा तब धूमाक्ष योग बनेगा। चद्रमा मीन राशि में प्रवेश कर जाएंगे, जो वर्ष की अंतिम राशि है। इसके विपरीत सूर्य मेष राशि में प्रवेश करेंगे। मेष राशि सौर वर्ष की पहली राशि है। इस संक्रमण का पुण्यकाल सवेरे 8.10 बजे तब प्रारंभ होगा, जब सूर्य अश्विन नक्षत्र में आ जाएंगे।

 

The post बैसाखी स्नान के लिए हरिद्वार में उमड़ा श्रद्धालुओं का सैलाब, जानिए स्नान का शुभ मुहूर्त appeared first on www.dainikuttarakhand.com.



https://ift.tt/2GUBHSs


See More

 
Top