18 अप्रैल को गंगोत्री और यमुनोत्री के कपाट खुलने के साथ ही चारधाम यात्रा शुरू हो जाएगी। कई पैदल यात्री तो यात्रा पर निकल चुके हैं लेकिन अगर आप भी चारधाम यात्रा करने का प्लान बना रहे हैं या बना चुके हैं तो आप ये वैकल्पिक मार्गों के बारे में जरूर जान लें। क्योंकि इन दिनों ऑल वेदर रोड़ का निर्माण कार्य चल रहा है तो संभवत जाम लगने की स्थिति आ सकती है या फिर भूस्खलन से मुख्य मार्ग बंद हो सकता है। ऐसे में सरकार ने कुछ वैकल्पिक मार्ग दुरूस्त करवा रही है। जिनकी जानकारी आपको जरुर होनी चाहिए। ताकि यात्रा के दौरान आपको कठिनाईयों का सामना ना करना पड़े।

बदरीनाथ के मार्ग पर

ऋषिकेश-ब्रहमपुरी के मध्य मार्ग अवरूद्ध हुआ तो गरूड़चट्टी से लक्ष्मणझूला और बैराज मार्ग विकल्प है। ऋषिकेश से देवप्रयाग मार्ग अवरूद्ध होने पर देवप्रयाग-गजा, खाड़ी, नरेंद्रनगर-ऋषिकेश से, देवप्रयाग-पौड़ी-कोटद्वार से और देवप्रयाग-बागवान-मलेथा-गडोलिया-नई टिहरी-चंबा से ऋषिकेश निकला जा सकता है। बागबान से श्रीनगर के बीच बाधा आने पर खांकरा-खेड़ाखाल-छातीखाल-डुंगरीपंत का विकल्प है जबकि रुद्रप्रयाग से कर्णप्रयाग के बीच व्यवधान होने पर कर्णप्रयाग-गैरसैंण, रानीखेत-हल्द्वानी व पैठाणी- बुआखाल- कोटद्वार और कर्णप्रयाग से चमोली के बीच बाधा आने पर चमोली-गोपेश्वर-चोपता-कुंड-रूद्रप्रयाग से निकला जा सकता है।

केदारनाथ धाम की ओर

सूतक के चलते बंद किए गए चार धाम के कपाट,जानिए अब कब खुलेंगे द्वार

केदारनाथ धाम की यात्रा के दौरान रूद्रप्रयाग-तिलवाड़ा-घनसाली-टिहरी-ऋषिकेश का विकल्प है। तिलवाड़ा-कुंड बंद होने पर कुंड-चोपता-गोपेश्वर-चमोली, कुंड से तथा गुप्तकाशी बंद होने पर गुप्तकाशी-मयाली-घनसाली-टिहरी- ऋषिकेश का विकल्प होगा।

यमुनोत्री की दिशा में

ऋषिकेश-देहरादून-मसूरी-बड़कोट-यमुनोत्री मार्ग के बाधित होने पर गंतव्य तक पहुंचने के चार वैकल्पिक मार्ग हैं। यमुना ब्रिज से नैनबाग के बीच बाधित होने पर यमुना ब्रिज-लखवाड़ बैंड-लक्स्यार-नैनबाग का विकल्प है। नैनबाग-नौगांव बाधित होने पर नौगांव-पुरोला-त्यूनी-चकराता-देहरादून का विकल्प होगा। इसके अलावा बर्नीगाड-लाखामंडल-चकराता-देहरादून भी एक विकल्प है। नौगांव से बड़कोट का विकल्प नौगांव घाटी से राजगढ़ी का विकल्प है। बड़कोट-यमुनोत्री मार्ग बाधित होने पर कोई विकल्प नहीं है।

The post चारधाम यात्रियों के लिए जरूरी सूचना appeared first on www.dainikuttarakhand.com.



https://ift.tt/2Hhc5hX


See More

 
Top