पिथौरागढ़: मुख्यमंत्री के कार्यक्रम में आत्मदाह करने आ रहे धारचूला से कांग्रेस विधायक हरीश धामी को पुलिस ने दर्जनों समर्थकों के साथ गिरफ्तार कर लिया। इस दौरान पुलिस व कांग्रेसियों के बीच धक्का-मुक्की भी हुई। विधायक धामी पुलिस अधिकारियों द्वारा सरकार के संरक्षण में अभद्रता किए जाने का आरोप लगाते हुए आत्मदाह की धमकी दी थी।

दरअसल मदकोट में गोरी नदी तट पर खनन में मुनस्यारी पुलिस ने सिंचाई विभाग के निर्माणाधीन तटबंध निर्माण में प्रयुक्त मशीनों का चालान कर दिया था। संबंधित ठेकेदार ने इसकी शिकायत क्षेत्रीय विधायक धामी से करते हुए बताया था कि उन्होंने खनन कार्य के लिए तय रॉयल्टी जमा की थी। इसी बाबत दो दिन पहले विधायक धामी मदकोट चौकी इंचार्ज और मुनस्यारी के एसओ से मिले। एसओ ने उनके साथ अभद्रता की । इसकी शिकायत एसएसपी से करने के बाद भी किसी तरह की कार्यवाही नहीं होने पर शुक्रवार की रात विधायक ने आइजी और डीजी को मैसेज भेज कर शनिवार को पिथौरागढ़ में सीएम के कार्यक्रम में आत्मदाह की चेतावनी दी।

फोर्स ने विधायक समेत सभी को किया गिरफ्तार 

शनिवार को मुख्यमंत्री पिथौरागढ़ में विकास कार्यक्रमों के लोकार्पण व सामाजिक समरसता कार्यक्रम को संबोधित करने पहुंचे थे। विधायक धामी इस कार्यक्रम में आने के लिए समर्थकों के साथ 110 किमी दूर अपने आवास मदकोट से निकले। पुलिस प्रशासन द्वारा नगर से छह किमी दूर जाजरदेवल थाने के सामने उन्हें रोक दिया गया। पुलिस कर्मियों को विधायक को जबरिया अपने वाहन में बैठा लिया। इसका उनके समर्थक विरोध करने लगे। इस दौरान पुलिस व समर्थकों के बीच धक्का-मुक्की भी हुई। फोर्स ने विधायक समेत सभी को गिरफ्तार कर लिया।

इसकी सूचना पर जिले भर के कांग्रेसी रोष में आ गए। दर्जनों कांग्रेस कार्यकर्ता जाजरदेवल थाने पहुंच कर प्रदर्शन करने लगे। पुलिस ने सभी को पकड़ कर थाने में बैठा दिया। कांग्रेसी धरने पर बैठ गए। इस बीच विधायक की डीएम से बात हुई। जिसमें विधायक ने सीएम से भेंट करने का समय मांगा। प्रशासन ने उन्हें समय दिया। इस दौरान सीएम कार्यक्रम समाप्त कर लौट गए। इसके बाद गिरफ्तार कांग्रेसियों को पिथौरागढ़ पुलिस लाइन के गौरी सभागार में लाया गया। कांग्रेसियों ने देर शाम रिहाई के लिए मुचलके पर हस्ताक्षर भी नहीं किए।



https://ift.tt/2qxUwRa


See More

 
Top