पिथौरागढ़ : चीन सीमा से लगे पिथौरागढ़ में हंस फाउंडेशन के सहयोग से आइसीयू यूनिट के उद्घाटन के अवसर पर सीएम ने शनिवार को कहा कि फाउंडेशन उत्त्तरकाशी और चमोली में भी यूनिट स्थापित कर रहा है। पिथौरागढ़ में बेस अस्पताल निर्माण के लिए दस करोड़ रुपए मिलेंगे। वहीँ मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने कहा कि प्रदेश के सभी जिला अस्पतालों में एक साल के भीतर आइसीयू यूनिट स्थापित कर दी जाएगी। उन्होंने कहा पिथौड़ागढ़ जिले में जल्द ही 28 और चिकित्सकों की नियुक्ति होगी।

मुख्यमंत्री रावत ने जिला अस्पताल में हंस फाउंडेशन के सहयोग से तैयार आइसीयू यूनिट और आंवलाघाट पंपिंग पेयजल योजना का लोकार्पण करने के बाद बाबा साहब भीम राव आंबेडकर की 127 वीं जयंती पर आयोजित ग्राम स्वराज अभियान, सामाजिक न्याय दिवस पर आयोजित समारोह को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि उनकी प्राथमिकता राज्य के प्रत्येक कस्बे तक स्वास्थ्य सुविधा पहुंचाने की है। उन्होंने वर्ष 2004 से ही प्रदेश में चिकित्सा सेवा में सुधार के लिए कार्य किया। वर्तमान में एक साल के भीतर प्रदेश मे 1141 चिकित्सकों की तैनाती की है। जबकि सरकार ने इसका लक्ष्य केवल एक हजार नियुक्तियों का रखा था।

उन्होंने कहा कि पिथौरागढ़ जिला महिला चिकित्सालय एनएबीएस के तहत उच्चीकृत किया जाएगा। प्रदेश के पर्वतीय जिलों में सबसे पहले आइसीयू यूनिट लगेंगे। देहरादून, हल्द्वानी और हरिद्वार से पहले पर्वतीय जिलों के जिला अस्पतालों में आइसीयू यूनिट तैयार होगी। इस मौके पर उन्होंने हंस फाउंडेशन के सहयोग से पिथौरागढ़ में स्थापित तथा चमोली और उत्त्तरकाशी में लगने वाले आइसीयू को पूज्य माता राजेश्वरी करुणा नाम दिया। सीएम ने कहा कि प्रदेश सरकार का मुख्य लक्ष्य विकास है। सरकार ने निकायों को 1500 करोड़ की धनराशि दी है। जिसमें पिथौरागढ़ को दस करोड़ रुपए की धनराशि मिली है। यह धनराशि सीधे निकायों को मिल रही है। बीच में कोई भी बिचौलिया नहीं है।

समारोह को संबोधित करते हुए उन्होंने जिला अस्पताल में डाइलिसिस लगाने, पिथौरागढ़ नर्सिंग कालेज में जुलाई से कक्षाएं संचालित करने पिथौरागढ़ महिला अस्पताल को अपग्रेड करने, जिले में तत्काल 28 डाक्टरों की नियुक्ति, जिला अस्पताल को 125 केवी का जनरेटर देने, टेली मेडिसन और टेली रेडियोलाइजेशन से जोड़ने की घोषणा की।



https://ift.tt/2GXIruK


See More

 
Top