ऊधम सिंह नगर- हमेशा विवादों में घिरे रहने वाले भाजपा के विधायक राजकुमार ठुकराल एक बार फिर विवादों में घिरते नजर आ रहे हैं। महिलाओं से मारपीट करने के मामले में अभी भाजपा संगठन के द्वारा विधायक राजकुमार ठुकराल को क्लीनचिट मिली ही थी कि एक और वीडियो वायरल होने से विधायक की छवि और चरित्र एक बार फिर विवादों के घेरे में आ गया है। भाजपा के रुद्रपुर विधायक राज कुमार ठुकराल की एक ऐसी वीडियो सामने आई है, जिसमें विधायक सार्वजनिक रूप से अभद्र भाषा और गाली गलौज करते हुए नजर आ रहे हैं। मौका उस वक्त का है, जब गत 10 अप्रैल को निगम प्रशासन द्वारा अतिक्रमण हटाया जा रहा था।

हाईकोर्ट के आदेशों पर अतिक्रमण हटाओ अभियान चलाया जा रहा

आपको बता दें, ऊधम सिंह नगर के रुद्रपुर में हाईकोर्ट के आदेशों पर अतिक्रमण हटाओ अभियान में गल्ला मण्डी की ओर से प्रशासनिक अधिकारियों के द्वारा अतिक्रमण हटाने का अभियान चलाया गया. वहीं पर खोखे वाले छोटे फुटकर व्यापारियों ने इस कार्यवाही का विरोध किया और पक्षपातपूर्ण कार्यवाही का आरोप लगाया।

व्यापारियों के इस विरोध पर विधायक जी का पारा चढ़ गया

व्यापारियों का आरोप था कि हर बार अतिक्रमण हटाने की शुरुआत उन्हीं की दुकानों की ओर से होती है, बाद में अभियान किसी न किसी बहाने रुक जाता है और बड़े व्यापारियों को बचा लिया जाता है। व्यापारियों के इस विरोध पर विधायक जी का पारा चढ़ गया और बड़े व्यापारियों के समर्थन में विधायक राजकुमार ठुकराल छोटे व्यापारियों से अभद्रता और गाली गलौज पर आमादा हो गए। विधायक जिस दौरान अपना आपा खो कर छोटे व्यापारियों को हड़काते धमकाते और गाली देते दिख रहे थे, उसी दौरान किसी ने उनकी वीडियो बना ली, जिसमें चंद सेकेंड में ही विधायक अपने साथ-साथ अपनी पार्टी की भी गरिमा को तार-तार करते दिखाई दे रहे हैं।जबकि अभी चंद दिन पहले ही विधायक जी पर महिलाओं के साथ मारपीट का आरोप लग चुका है।

पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तिलक राज बेहड़ का बयान

इस विषय में पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तिलक राज बेहड़ ने कहा कि विधायक राज कुमार ठुकराल के लिए गाली-गलौज और अभद्रता करना आम बात है, आये दिन उनके इस तरह के मामले सामने आते रहते हैं। व्यापारियों के अलावा महिलाओं और अपनी पार्टी के ही नेताओं और कार्यकर्ताओं के साथ गाली-गलौज और बदतमीजी के विधायक के दर्जनों ऐसे मामले हैं। उन्होंने कहा कि अभी हाल ही में सत्र के दौरान गैरसैण में भी ये महिलाओं से बदतमीजी कर चुके हैं। इन्होंने अभद्रता और गाली-गलौज करने का लाइसेंस ले रखा है।

विधायक को कृत्य पर कोई पछतावा महसूस नहीं हुआ

इस विषय में जब विधायक जी से बात की गयी तो उन्हें अपने कृत्य पर कोई पछतावा महसूस नहीं हुआ। उन्होंने बड़े ही शान से कहा की जो जैसा है, उसे वैसी ही भाषा में जवाब दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि मैं 10 अप्रैल को गरीबों की मदद करने गया था, वहां मुझसे बदतमीजी की गई। जबकि वीडियो में स्पष्ट दिखाई दे रहा है कि व्यापारी केवल विरोध कर रहे हैं न कि बदतमीजी।

पहले भी घिर चुके हैं विवाद में

वहीं विधायक जी का इससे पूर्व का भी एक वीडियो सामने आया है, जिसमें एक युवक द्वारा उनके पांव दबाये जा रहे हैं और विधायक बीजेपी जिला अध्यक्ष को गाली-गलौज कर रहे हैं।

विधायक के व्यवहार के कारण मेरा विधायक से मोहभंग हो चुकी-व्यापारी

वहीं पीड़ित व्यापारी अशोक राजपूत ने कहा कि मैं व्यापारी होने के साथ-साथ एक भाजपा कार्यकर्ता भी हूं, इसलिये मैं विधायक के सामने अपनी बात रख रहा था। अतिक्रमण हटाने के नाम पर तीसरी बार हमारी दुकानों को उजाड़ा गया है। लेकिन विधायक अपने सामने किसी का बात नहीं सुनते हैं और अब विधायक के व्यवहार के कारण मेरा विधायक से मोहभंग हो चुका है।

ऐसा कोई वीडियो मेरे सामने आया-महामंत्री

वहीं भाजपा के जिला महामंत्री ने पार्टी स्तर पर विधायक के मामले में कुछ भी बोलने से मना कर दिया, उन्होंने कहा कि ऐसा कोई वीडियो मेरे सामने आया है।

भाजपा विधायक राज कुमार ठुकराल के बारे में यह बात अत्यंत विचारणीय है कि जनता के वोट पाकर विधानसभा तक का सफर पूरा कर लोगों की समस्याओं को विधानसभा में उठाने वाले विधायक आखिर अपने पद की गरिमा और मर्यादा को कैसे भूल जाते हैं, जबकि वे देश की ऐसी पार्टी से हैं जिसके नेताओं से सबसे अधिक संस्कारी होने की अपेक्षा की जाती है। अब देखना यह है कि अभद्रता और मर्यादा भंग करने के हर मामले में विधायक को क्लीन चिट देने वाली पार्टी विधायक ठुकराल के इस मामले पर क्या रुख अपनाती है? ज्वलन्त उदाहरण के रूप में सार्वजनिक रूप से विधायक का गाली-गलौज करते हुए वीडियो सामने आने के बाद पार्टी विधायक को कुछ सबक सिखाएगी या पार्टी एक बार फिर अपने विधायक को क्लीन चिट देकर विधायक का मनोबल बढायेगी?



https://ift.tt/2HoDVsL



See More

 
Top