ऋषिकेश- लोग हमेशा से ही खाकी को ताने कसते रहते हैं. कुछ रिश्वतखोर पुलिस वालों के चक्कर में सभी पुलिस वालों को न जाने लोग क्या-क्या बोलते हैं. लेकिन हर पुलिस वाला एक जैसा नहीं होते. उत्तराखंड पुलिस के कई पुलिस कर्मियों और अधिकारियों ने नेक काम कर मिशाल पेश की है. जिसके बाद एक बार फिर ऐसा ही कुछ हुआ. ऋषिकेश श्यामपुर चौकी क्षेत्र में देखने को मिला। जहां तैनात एक सिपाही ने 400 डॉलर से भरे पर्स और कीमती सामान को उसके मालिक तक वापस पहुंचा दिया।

सिपाही ने पेश की मिसाल

अक्सर खाकी पर लोग सवाल उठाते आए हैं क्योंकि अपने निजी स्वार्थ के कारण कुछ पुलिसकर्मी खाकी को दागदार कर देते हैं, जिनके कारण पूरे पुलिस विभाग पर सवालिया निशान खड़ा हो जाता है। इन सब से इतर ऋषिकेश श्यामपुर चौकी क्षेत्र इलाके में तैनात मनोज सागर ने ईमानदारी की मिसाल पेश की है।

एनआरआई को लौटाया खोया पर्स

पुलिस ने बताया कि ऋषिकेश श्यामपुर चौकी क्षेत्र में सड़क पर मनोज सागर को पर्स पड़ा हुआ मिला। जिसके अन्दर स्वीट्जरलैंड की विदेशी मुद्रा के करीब 400 डॉलर थे, जिनकी भारतीय कीमत लगभग 25 से 26 हजार रुपये है। इसके अलावा सड़क पर मिले पर्स में विजा, ATM कार्ड ,आधार कार्ड व अन्य महत्वपूर्ण कागजात भी मिले हैं। आपको बता दे पर्स मालिक टिहरी का रहना वाला है जो स्विटजरलैंड में नौकरी करता है. वो आजकल अपने रिश्तेदारों के यहा गुमानीवाला आ रखा था.   इसी दौरान उसका कीमती समान से भरा पर्स कहीं गिर गया था। जिसको चौकी श्यामपुर में तैनात सिपाही मनोज कुमार ने वापस कर दिया।

आधार कार्ड से ढूंढा पता

सिपाही मनोज सागर ने आधार कार्ड के जरिये असली मालिक का पता निकाला। जो कि टिहरी गढ़वाल का रहने वाला है। मनोज सागर ने पर्स के मालिक को श्यामपुर चौकी बुलाकर उसे पर्स सहित सभी कीमती समान वापस कर दिया।

अपना पर्स और तमाम कागजात वापस मिलने पर पर्स के मालिक ने उत्तराखंड पुलिस को धन्यवाद दिया।



https://ift.tt/2vil2D9


See More

 
Top