शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने कर्नाटक के 32वें सीएम बीएस येदियुरप्पा को विधान सभा में बहुमत साबित करने के लिए शनिवार (19 मई) साम चार बजे का वक्त दिया है. सुप्रीम कोर्ट ने बीजेपी के वकील मुकुल रोहतगी के उस दलील को खारिज कर दिया जिसमें उन्होंने कम से कम सोमवार तक का वक्त माँगा था लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने उनकी दलील को खारिज कर दिया.

कर्नाटक सरकार के वकील ने सर्वोच्च अदालत से कहा कि बहुमत परीक्षण के पहले सभी नए 222 विधायकों को शपथ दिलायी जाएगी और विधान सभा अध्यक्ष का चयन होगा. इस पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि सभी जरूरी प्रक्रियाओं का पालन किया जाए लेकिन बहुमत पीरक्षण कल ही होगा. बीजेपी विधायक और नरेंद्र मोदी सरकार में मानव संसाधन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि उनकी पार्टी शनिवार को कर्नाटक विधान सभा में बहुमत साबित कर देगी.

कांग्रेस नेता और सीनियर एडवोकेट अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि सर्वोच्च अदालत ने 10 हफ्ते बाद की तारीख दी है. सिंघवी ने मीडिया से कहा, “राज्यपाल क्या ऐसी पार्टी को निमंत्रण दे सकते हैं जिसके पास केवल 104 विधायक हैं, दूसरी तरफ कांग्रेस-जेडीएस के पास 116-117 विधायक हैं, ऐसे में राज्यपाल किस तरह से 104 विधायकों वाली पार्टी को सरकार बनाने का न्योता दे सकते हैं.”



https://ift.tt/2IRRIZq


See More

 
Top