देहरादून : प्रदेश के चार सरकारी मेडिकल कॉलेजों और छह नर्सिंग संस्थानों में फैकल्टी के 250 से ज्याद रिक्त पद जल्द भरे जाएंगे। सरकार ने इसकी कसरत शुरू कर दी है। चिकित्सा शिक्षा निदेशालय को फैकल्टी के रिक्त पदों के प्रस्तावों को अपडेट करने को कहा गया है।

चार मेडिकल कॉलेजों श्रीनगर, हल्द्वानी, देहरादून व अल्मोड़ा में फैकल्टी के 180 पद रिक्त हैं। इनमें श्रीनगर मेडिकल कॉलेज में प्रोफेसर के छह, एसोसिएट प्रोफेसर के 13, असिस्टेंट प्रोफेसर के 22, सीनियर रेजीडेंट के 46 पद रिक्त हैं। वहीं हल्द्वानी मेडिकल कॉलेज में प्रोफेसर के पांच, एसोसिएट प्रोफेसर के चार, असिस्टेंट प्रोफेसर के 23, सीनियर रेजीडेंट के 30 व जूनियर रेजीडेंट के 45, देहरादून मेडिकल कॉलेज में प्रोफेसर के 15, एसोसिएट प्रोफेसर के 18, असिस्टेंट प्रोफेसर के 24, सीनियर रेजीडेंट के सात, जूनियर रेजीडेंट के पांच, अल्मोड़ा के निर्माणाधीन मेडिकल कॉलेज में प्रोफेसर के 22, एसोसिएट प्रोफेसर के 28, असिस्टेंट प्रोफेसर के 45, सीनियर रेजीडेंट के 29 व जूनियर रेजीडेंट के 56 पद रिक्त हैं।

इसी तरह राज्य के छह नर्सिग कॉलेज व तीन नर्सिंग स्कूल में एसोसिएट प्रोफेसर के दो, असिस्टेंट प्रोफेसर के 21 व ट्यूटर के 50 पद रिक्त हैं। मेडिकल कॉलेजों व नर्सिंग संस्थानों में शिक्षण कार्य सुचारू चलाने के लिए फैकल्टी के रिक्त पदों को भरने की कवायद सरकार ने शुरू की है।

सरकार के निर्देश पर चिकित्सा शिक्षा निदेशालय ने मेडिकल कॉलेज और नर्सिग संस्थानों में फैकल्टी के रिक्त पदों के लिए अधियाचन शासन को भेजा है। चिकित्सा शिक्षा सचिव नितेश झा ने इन प्रस्तावों को जल्द अपडेट करने के निर्देश दिए हैं। इसके बाद उक्त रिक्त पदों पर भर्ती की कार्रवाई शीघ्र की जाएगी।



https://ift.tt/2K6Rzi0


See More

 
Top