देहरादून- देहरादून में नगर निगम के कर्मचारियों ने पिछले 3 दिनों से निगम के खिलाफ मोर्चा खोला हुआ है निगम के सफाई कर्मचारी अपनी मांगों के चलते निगम के बाहर ही धरने पर बैठे हैं .वहीं दूसरी ओर राजधानी देहरादून अब गंदगी के अंबार में तब्दील होने लगा है घरों के बाहर गलियों पर सड़कों चौराहों पर पसरी गंदगी अब लोगों का जीना दुश्वार कर रही है.

आलम यह है कि कूड़े के ढेरों से उठती बदबू अब आसपास के लोगों पर भारी पड़ रही है ऐसे में सड़क और दुर्गंध से महामारी  फैलने की घटना से भी इनकार नहीं किया जा सकता

अपनी वेतन बढ़ोतरी और नियमितीकरण की मांग को लेकर राजधानी देहरादून के नगर निगम के सफाई कर्मचारी पिछले 3 दिनों से हड़ताल पर बैठे हैं वहीं दूसरी ओर सड़कों और गलियों चौराहों पर बिखरा कूड़ा निगम के सफाई कर्मियों की बाट जोह रहा है कूड़े से  उठती दुर्गंध से लोगों का पैदल चलना भी दूभर हो गया है साथ ही आसपास की दुकानों और घरों में भी कूड़े की दुर्गंध से लोग परेशान हो गए हैं लेकिन निगम के कर्मचारी इन सबसे दूर अपनी मांगों पर पड़े हुए हैं ऐसे में सरकार के सामने विकट समस्या आ खड़ी हुई है कि वह लोगों को कूड़े की दुर्गंध से निजात दिलवाए या सफाई कर्मचारियों की मांगें माने राजधानी में हालात इस कदर अब बदल रहे हैं कि जहां पर कूड़े के ढेर लगे हुए हैं वहां पर बारिश होने के चलते यह कूड़ा अब सड़कों में भी फैल रहा है इससे पैदल चलना भी दूभर हो रहा है

जब तक मांगे पूरी नहीं होती हड़ताल पर रहेंगे, सीएम आवास पर देंगे धरना

वहीं निगम के सफाई कर्मचारियों का कहना है कि जब तक उनकी मांगें पूरी नहीं हो जाती वह इसी प्रकार अनिश्चितकालीन हड़ताल पर रहेंगे साथ ही उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि वह आगामी 11 तारीख को सचिवालय कूच करेंगे और तभी भी अगर मांगे पूरी नहीं हुई तो वह मुख्यमंत्री आवास में धरना देंगे और भूख हड़ताल शुरू करेंगे ऐसे में  सरकार के सामने भी यह मुसीबत खड़ी हो गई है कि वह इनकी मांगे माने या फिर लोगों को बढ़ती कूड़े की दुर्गंध से निजात दिला पाए ऐसे में सरकार को जरूर कोई बीच का रास्ता निकाल कर लोगों को राहत देने की जरूरत ह



https://ift.tt/2jLwBK9


See More

 
Top