देहरादून- मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह ने बुधवार को सीसीटीएनएस की उच्चाधिकार प्राप्त समिति में दावा किया कि राज्य में पुलिस व्यवस्था बेहद चाक चौबंद है. उन्होंने कहा कि सीसीटीएनएस (क्राइम एंड क्रिमिनल ट्रैकिंग नेटवर्क एंड सिस्टम) के ज़रिए सभी थाने ऑनलाइन हो गए हैं. रियल टाइम में एफआईआर दर्ज की जा रही हैं.

मुख्य सचिव ने कहा कि देश के सभी थानों से जुड़ गए हैं. इससे अपराधियों का पता लगाने और अपराध का अनावरण करने में पुलिस को मदद मिलेगी साथ ही कहा कि सिटिजन चार्टर लागू किया गया है. सीसीटीएनएस के दूसरे चरण के लिए भारत सरकार से स्वीकृति मिल गई है. इसके तहत सीसीटीएनएस परियोजना को इंटेरोपेराबल क्रिमिनल जस्टिस सिस्टम (Interoperable Criminal Justice System) से इंटिग्रेटेड किया जाएगा. इसमें न्यायालय, जेल, फॉरेंसिक लैब, अभियोजन कार्यालयों का ऑटोमेशन विकसित किया जा रहा है.

बैठक में मुख्य सचिव ने सीसीटीएनएस को और अधिक कारगर बनाने पर बल दिया. बताया गया कि 156 पुलिस थाने सीसीटीएनएस से जुड़ गए हैं. पौड़ी जनपद में खुले पैठानी और थलीसैंण दो नए थानों को जोड़ने की कार्रवाई चल रही है. तय किया गया कि नेशनल डेटा सेंटर से चल रहे सीसीटीएनएस को अब राज्य में स्थापित हो रहे स्टेट डेटा सेंटर में होस्ट किया जाएगा. इसके लिए अलग से सर्वर स्थापित किया जाएगा.

बैठक में प्रमुख सचिव गृह आनंद वर्द्धन, अपर पुलिस महानिदेशक राम सिंह मीणा, पुलिस उप महानिरीक्षक अमित सिन्हा, अपर सचिव आईटी चंद्रेश कुमार सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे.



https://ift.tt/2Isjeth


See More

 
Top